दशहरे पर नहीं फूंके जाएंगे दशानन, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतले

-कोरोना के मद्देनजर जिला प्रशासन का निर्णय
-शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में होने वाला कार्यक्रम निरस्त

By: Deepak Vyas

Published: 16 Oct 2020, 09:06 PM IST

जैसलमेर. बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की जीत का पर्व दशहरा इस बार कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सार्वजनिक रूप से नहीं मनाया जाएगा। आगामी 25 अक्टूबर को विजयादशमी पर्व है और इस बार हर साल की भांति जैसलमेर के पूनम स्टेडियम में बुराई के प्रतीक रावण, उसके भाई कुंभकर्ण और पुत्र मेघनाद के विशालकाय पुतलों का दहन नहीं किया जाएगा। जिला प्रशासन ने कोरोना महामारी के मद्देनजर यह फैसला लिया है। जिले के पोकरण उपखंड मुख्यालय सहित अन्य कस्बों में भी बड़े पुतला दहन कार्यक्रमों पर रोक लगाई जाएगी।
नगरपरिषद नहीं बनवाएगी पुतले
हर साल विजयादशमी के मौके पर जैसलमेर नगरपरिषद की तरफ से पुतलों का निर्माण करवाया जाता है। लाखों रुपए खर्च कर रावण और उसके दो परिवारजनों के पुतलें बनवाए जाते हैं तथा पुतला दहन के साथ रंगीन आतिशबाजी करवाई जाती है। जानकारी के अनुसार इस बार भी नगरपरिषद की ओर से पुतलों का निर्माण करवाने की तैयारी थी लेकिन जिला कलक्टर ने मौजूदा समय को देखते हुए इस बार सार्वजनिक रूप से त्योहार नहीं मनाने का निर्देश दिया है।
जुटती रही है हजारों की भीड़
विजयादशमी पर सूर्यास्त के समय पुतलों का दहन तथा आतिशी नजारों को देखने के लिए पूनम स्टेडियम में हर साल हजारों की भीड़ जुटती रही है। हर बार यहां पहुंचने वाले लोगों में शहरवासियों के अलावा ग्रामीण ही नहीं जैसलमेर घूमने आए हुए पर्यटक भी शामिल होते थे। इस बार कोरोना महामारी फैली होने के कारण प्रशासन ने कार्यक्रम को निरस्त करवाया है क्योंकि खचाखच भरे मैदान में सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करवाना संभव नहीं होता। ऐसे ही पोकरण सहित अन्य बड़े गांवों में भी विजयादशमी से जुड़े सार्वजनिक कार्यक्रम इस बार आयोजित नहीं होंगे।

बड़े कार्यक्रम नहीं होंगे
कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार विजयादशमी पर बड़े कार्यक्रम नहीं होंगे। छोटे स्तर के कार्यक्रमों के संबंध में विचार करने के बाद निर्णय लिया जाएगा।
- आशीष मोदी, जिला कलक्टर जैसलमेर

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned