Jaisalmer- विधायक के गांव में फ्री की बिजली, डिस्कॉम के करोड़ों बकाया फिर भी नहीं कार्यवाही की हिम्मत

ग्रामीण क्षेत्रों में डिस्कॉम के करोड़ों बकाया, विधायक का गांव बड़े बकायादारों में षामिल -जैसलमेर के गांवों में सभी तरह के कनेक्षनों में 50 हजार से ले

By: jitendra changani

Published: 29 Nov 2017, 10:02 PM IST

जैसलमेर . जोधपुर विद्युत वितरण निगम लि. (डिस्कॉम) के करोड़ों रुपए जैसलमेर षहर के साथ ग्रामीण क्ष् ोत्रों में भी चल रहे हैं। इनमें जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी का पैतृक गांव हाबूर (पूनमनगर) बड़े बकायादारों में सम्मिलित है।इस गांव के 21 उपभोक्ताओं पर ही डिस्कॉम के 13 लाख 16 हजार 956 रुपए बकाया चल रहे हैं।जैसलमेर क्ष् ोत्र के ग्रामीण क्ष् ोत्रों में डिस्कॉम को करीब 6.12 करोड़रुपए की वसूली करनी है।जिसमें 1554 कनेक्षनों पर 3 करोड़61 लाख 77 हजार 624 रुपए बाकी है और उनके संबंध विच्छेद किए जा चुके हैं।ऐसे ही 1310 ऐसे कनेक्षन हैं, जिन्हें अभी विच्छेद नहीं किया गया है और उन पर 2 करोड़51 लाख 9576 बाकी है।
डिस्कॉम चला रहा अभियान
प्रबंधन के स्तर पर बकाया वसूली के बड़े लक्ष् य दिए जाने के बाद डिस्कॉम के जैसलमेर वृत क्ष् ोत्र के अभियंता और कार्मिक इन दिनों षहरी व ग्रामीण क्ष् ोत्रों में यही काम प्रमुखता से कर रहे हैं।जानकारी के अनुसार 10 हजार से अधिक बकाया वाले कनेक्षनधारियों से राषि वसूलने के लिए निगम के कार्मिकों की ओर से दबाव बनाया जा रहा है।संबंध विच्छेद किए जाने की नौबत आने पर आधे बकायादार जहां राषि जमा करवाने पर राजी हो रहे हैं वहीं इतने ही लोगों के कनेक्षनभी काटे जा रहे हैं।इस वर्ष तक डिस्कॉम को जैसलमेर क्ष् ोत्र में 20 करोड़रुपए की बकाया राषि वसूल करनी है।
सरकारी विभागों से भी वसूलने हैं लाखों
ग्रामीण क्ष् ोत्रों में आए सरकारी महकमों में भी डिस्कॉम को हजारों-लाखों रुपए की राषि वसूलनी है।जिसमें प्रमुख रूप से चिकित्सा केंद्र और पुलिस थाना व चौकियां षामिल हैं। जिसमें थाना खुहड़ी में 60 हजार 339, प्रभारी अधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खुहड़ी में 84 हजार 720, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र म्याजलार में 67 हजार 869, पुलिस थाना सम में 76 हजार 21, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सम में 1 लाख 27 हजार 250, सरपंच ग्राम पंचायत खींया में 69 हजार 345, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवा में 50 हजार 369, पुलिस चौकी नेहड़ाई 1 लाख 15 हजार 718 के साथ 76 बटालियन बीएसएफ के सुल्ताना में 58 हजार 991 और सुल्ताना में ही कमांडिंग ऑफिसर 201, इंजीनियर निवास में 74 हजार 143 रुपए की राषि बकाया है।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

ब्याज माफी की योजना
विद्युत षुल्क की राषि हजारों में या लाख से बाहर होने पर आम तौर पर उपभोक्ता सरकार की ओर से छूट मिलने का इंतजार करते हैं।इस बार अब तक ऐसी कोई छूट नहीं दी गई है।बहरहाल, वर्ष 2016 के मार्च माह से जिन उपभोक्ताओं के कनेक्षन काटे गए हैं, वे यदि बकाया राषि जमा करवाते हैं तो उन्हें ब्याज माफी का लाभ दिया जा रहा है।बड़ी संख्या में इन दिनों षहरी व ग्रामीण क्ष् ोत्र के विद्युत उपभोक्ता बकाया विद्युत षुल्क जमा करवाने के लिए निगम कार्यालय में पहुंच रहे हैं।विद्युत बिलों में कार्मिकों की लापरवाही अथवा तकनीकी गड़बड़ी से कई तरह की षिकायतों को लेकर उपभोक्ता अधिकारियों के यहां चक्कर लगाने के लिए विवष दिखाई दे रहे हैं।

फैक्ट फाइल -
-20 करोड़़ बकाया वसूलने का लक्ष् य
- 550 से ज्यादा कनेक्षन विच्छेद किए गए
-50 फीसदी से ज्यादा वसूली का लक्ष् य अर्जित

ग्रामीण क्ष् ोत्रों पर भी विषेष ध्यान
विद्युत बिलों में बड़ी राषि के बकाया होने पर निगम आवष्यक कार्रवाई कर रहा है।जैसलमेर षहर में एक लाख से ज्यादा की राषि बकाया वालों से वसूली पूरी की जा चुकी है, ग्रामीण क्ष् ोत्रों में बकाया राषि को भी अभियान चलाकर वसूला जा रहा है।
-सीएस मीना, एसई, डिस्कॉम, जैसलमेर

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned