पोकरण में चिकित्साकर्मियों को एपीओ करने पर जताया रोष

-चिकित्सकों व चिकित्साकर्मियों ने दिया ज्ञापन

By: Deepak Vyas

Published: 17 Jun 2020, 10:03 PM IST

पोकरण. स्थानीय राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में मंगलवार को एक बच्चे की मौत के बाद चिकित्सक व चिकित्साकर्मी को एपीओ करने पर अस्पताल के अन्य चिकित्सकों व स्टाफ ने रोष जताते हुए विरोध प्रदर्शन किया। गौरतलब है कि स्थानीय राजकीय अस्पताल में मंगलवार को एक बच्चे की मौत हो गई थी। परिजनों ने चिकित्सक व चिकित्साकर्मी पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। जिस पर चिकित्सक डॉ.रतनलाल मीणा व चिकित्साकर्मी जेठूसिंह को एपीओ कर दिया गया। जिससे अस्पताल के अन्य स्टाफ में रोष व्याप्त हो गया। बुधवार को दोपहर सभी चिकित्सक व चिकित्साकर्मी एकत्र होकर जुलूस के रूप में उपखंड अधिकारी कार्यालय पहुंचे। उन्होंने उपखंड अधिकारी अजय अमरावत से मुलाकात कर एक ज्ञापन सुपुर्द किया। उन्होंने बताया कि मंगलवार को जो भी घटनाक्रम हुआ, उससे सभी कर्मचारी आहत है। अस्पताल में स्टाफ की कमी है और कार्यभार की अधिकता से पूरा स्टाफ परेशान व मानसिक तनाव में है। इन हालातों में आमजन का बेवजह हस्तक्षेप कार्यक्षमता को प्रभावित करता है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण की महामारी के दौरान बेहतर सेवाएं देने के बावजूद चिकित्सक व कार्मिक को एपीओ किया गया है, जिसका वे विरोध करते है। उन्होंने उपखंड अधिकारी की ओर से की गई अनुशंसा को वापिस लेकर कार्मिकों को पुन: अस्पताल में लगाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि यदि उनकी मांग पूरी नहीं होती है, तो स्थानीय राजकीय अस्पताल के चिकित्सक व चिकित्साकर्मी गुरुवार को सुबह नौ बजे से 11 बजे तक कार्य बहिष्कार करने के साथ काली पट्टी बांधकर विरोध जताएंगे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned