Jaisalmer Discome News- व्यवस्था में ‘फॉल्ट’.... दीपावली से पहले जैसाणे के साथ बिजली का छल!


-सरहद पर विद्युत संकट से 1 लाख लोगों को लगेगा झटका
- जैसलमेर के बाशिंदों को झेलनी पड़ेगी 3 से 4 घंटे नियमित बिजली कटौती की मार

By: jitendra changani

Published: 08 Oct 2017, 01:47 PM IST

जैसलमेर . दीपावली पर्व से ठीक पहले विद्युत आपूर्ति पर आए संकट से सरहदी जिले के 1 लाख से अधिक उपभोक्ताओं के प्रभावित होने का भय बना हुआ है। जानकारों की माने तो प्रदेश में कोयले की कमी से बिजली आपूर्ति व्यवस्था पर संकट है। ऐसे में सरहदी जैसलमेर जिले में आगामी दीपावली तक नियमित 3 से 4 घंटे तक की बिजली कटौती होगी, वहीं किसानों को प्रतिदिन महज पांच घंटे बिजली आपूर्ति ही की जा सकेगी। कोयले की कमी की पूर्ति नहीं हो पाई तो कटौती के समय में बढ़ोतरी भी की जा सकेगी। ऐसे में कई छोटे-छोटे गांवों की बिजली आपूर्ति पर संकट के बादल है। इसके अलावा यही हालात रहे तो आने वाले दिनों में बिजली कटौती के समय में बढ़ोतरी की जा सकती है। ऐसे में दीपावली पर रोशनी की जगमगाहट इस बार फीकी पड़ सकती है।

तापीय विद्युत घरों में बड़ी गिरावट
विभागीय सूत्र बताते हैं कि प्रदेश के तापीय विद्युत घरों से विद्युत उत्पादन में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है, जिससे प्रदेश में विद्युत संकट के आसार बन गए है। यही कारण है कि प्रदेश के सभी जिलों में विद्युत कटौती शुरू की गई है। वर्तमान में आयुक्तालय जिला मुख्यालयों पर 2 घंटे, जिला मुख्यालय पर 3 घंटे और ग्रामीण क्षेत्रों में 4 घंटे बिजली कटौती की गई है। इसके अलावा कृषि कनेक्शन धारकों को दिन में पांच घंटे बिजली आपूर्ति ही की जा सकेगी।
हर दिन होगी कटौती की मार
जानकारों के अनुसार जैसलमेर जिले के शहरी क्षेत्रों में प्रतिदिन तीन घंटे व ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिदिन चार घंटे बिजली कटौती की जाएगी। जिला मुख्यालय व नगरपािलका क्षेत्रों में सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक और ग्रामीण फीडरों पर दोपहर 2 बजे से शाम 6 बजे तक बिजली कटौती की जाएगी।

यह पड़ेगा प्रभाव
जानकारों की माने तो कार्यालय समय में बिजली कटौती होने से सामान्य कामकाज प्रभावित होगा। इसमें ऑनलाइन व मशीनरी से सबंधित कार्य कहीं आंशिक रूप से तो कही पूरी तरह से ठप हो जाएंगे। जिसका असर व्यपारिक आय व आम कामकाज पर पड़ेगा और डिजिटल युग में काम की रफ्तार मंद हो जाएगी। जिससे भी आमजन की दुविधा बढ़ सकती है। कटौती से सरकारी कामकाज पर भी असर पड़ेगा। दीपावली की सीजन में बिजली कटौती बड़ी मुश्किल ला सकती है।
फैक्ट फाइल
- 1 लाख से अधिक घरेलू बिजली उपभोक्ता है सरहदी जैसलमेर जिले में।
- 11 कृषि कनेक्शन धारक वर्तमान में मौजूद है जिले में।
- 2 हजार से अधिक संख्या है जिले में व्यवसायिक उपभोक्ताओं की
- 4 उपखण्ड व तहसील मुख्यालय है जिले में।
- 140 संख्या है ग्राम पंचायतों की सरहदी जैसलमेर जिले में।
- 80 जीएसएस से की जाती है नियमित विद्युत आपूर्ति
- 2 डिविजन से बिजली आपूर्ति को लेकर की जाती है निगरानी।
- 6 सब डीविजन स्थापित है विद्युत निगम के जिले में।

सुधार होने तक जारी रहेगी कटौती
कोले की कमी से राज्य के तापीय विद्युत घरों से विद्युत उत्पादन में कमी से कटौती शुरू की गई है। जैसलमेर के शहरी क्षेत्र में तीन व ग्रामीण रुट पर चार घंटे नियमित विद्युत कटौती की जाएगी। यह कटौती व्यवसथा में सुधार होने तक तुरन्त प्रभाव से की जाएगी।
- सीएस मीना, अधीक्षण अभियन्ता डिस्कॉम, जैसलमेर

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned