पराई धरती पर फंसे विदेशी, मदद पहुंचाई

- महिला श्रमिक का अंतिम संस्कार करवाया

जैसलमेर. कोरोना संक्रमण की वजह से देशभर में लागू लॉकडाउन और विदेशों के लिए विमान सेवा पर रोक लग जाने से कई विदेशी सैलानी जैसलमेर में फंस गए हैं। होटल-रेस्टोरेंट बंद करवाए जाने से उन्हें यहां रहने-खाने की तकलीफ हो गई है। ऐसे सैलानियों की मदद के लिए जिला व नगरपरिषद प्रशासन आगे आया है। जानकारी के अनुसार विदेशी सैलानियों ने अपने दूतावासों से सम्पर्क किया। दूतावासों ने जिला कलक्टर नमित मेहता से मदद पहुंचाने का अनुरोध किया। जिसके बाद कलक्टर के निर्देशानुसार नगरपरिषद आयुक्त बृजेश राय ने अधिशासी अभियंता प्रवीण गहलोत और सहायक अभियंता रविराय दैया ने ढिब्बा पाड़ा की होटल में एक ऑस्टे्रलियन और बेरा रोड स्थित होटल में ठहरे कोलंबियाई युगल को खाद्य सामग्री पहुंचाई। आयुक्त ने बताया कि ये विदेशी जब तक यहां हैं, उनके लिए खाने का बंदोबस्त करने के साथ अन्य समस्याओं का समाधान करवाया जाएगा।
महिला श्रमिक का अंतिम संस्कार करवाया
इस बीच गुरुवार को जैसलमेर नगरपरिषद की ओर से बाहरी महिला श्रमिक की मृत्यु हो जाने पर उसका अंतिम संस्कार करवाया गया। परिषद के कार्मिक चूनाराम चौधरी ने बताया कि कमलाबाई (६०) पत्नी खीमाजी, निवासी मध्यप्रदेश मोहनगढ़ क्षेत्र के ४४ एसएलडी स्थित मुरब्बे में काम करती थी। उसकी मौत हो जाने पर पुलिस उसे लेकर जैसलमेर आई। यहां कोतवाली पुलिस ने नगरपरिषद प्रशासन से मृतका का अंतिम संस्कार करवाने का अनुरोध किया। जिसके बाद उसकी अंत्येष्टि शहर के सार्वजनिक श्मशान स्थल पर करवाई गई।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned