सांकड़ा समिति की साधारण सभा की बैठक हुई आयोजित

- शांतिपूर्ण रही बैठक, समस्याओं पर हुआ मंथन
- प्रतिनिधियों को निकाला बाहर, महिलाएं रही घूंघट में

By: Deepak Vyas

Published: 14 Jan 2021, 11:36 AM IST

पोकरण. पंचायत समिति सांकड़ा की साधारण सभा की पहली बैठक बुधवार को जिला प्रमुख प्रतापसिंह सोलंकी के मुख्य आतिथ्य व प्रधान भगवतसिंह तंवर की अध्यक्षता में आयोजित की गई, जिसमें क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों व विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया। विकास अधिकारी गौतम चौधरी ने बताया कि सभा की शुरुआत में सभी का परिचय लिया गया। इसके बाद गत बैठक की कार्रवाई का पठन करते हुए विभागवार समीक्षा की। बैठक में तहसीलदार बंटी राजपूत ने राजस्व संबंधी योजनाओं व कार्यों की जानकारी देते हुए जनप्रतिनिधियों से योजनाओं का लाभ जरुरतमंदों तक पहुंचाने की बात कही। पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम गोदारा ने क्षेत्र की कानून एवं शांति व्यवस्था के बारे में बताया। पशुपालन विभाग के डॉ.एसएस तंवर, जलदाय विभाग के अधिशासी अभियंता पराग स्वामी, पोकरण-फलसूण्ड पेयजल लिफ्ट परियोजना के अधिशासी अभियंता महेश जोशी, डिस्कॉम के अधिशासी अभियंता जेआर गर्ग, कृषि पर्यवेक्षक मदनसिंह, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी सोमेश्वर देवड़ा, अतिरिक्त मुख्य ब्लॉक शिक्षाधिकारी विष्णुकुमार छंगाणी ने अपने-अपने विभागों से संबंधित गतिविधियों, कार्यक्रमों व योजनाओं के बारे में जानकारी दी।
समस्याओं पर हुई चर्चा
बैठक के दौरान जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत करवाया तथा उनके निराकरण की मांग की। उपप्रधान मंजूरदीन मेहर ने बताया कि डिस्कॉम की बिल वितरण व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ी हुई है। लोगों को समय पर बिल नहीं मिलते है। पूर्व में जमा करवाई गई राशि भी अगले बिल में जुड़कर आ जाती है। उन्होंने बताया कि कार्मिकों की ओर से कार्यालयों में बैठे ही मनमर्जी से यूनिट लिख दी जाती है। जिन्हें सुधार करवाने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने पड़ते है। धोलिया सरपंच शिवरतन विश्रोई ने बताया कि क्षेत्र में कई घरों व विद्यालयों के ऊपर से हाईटेंशन विद्युत तारें निकल रही है। जिससे हादसे की आशंका बनी हुई है। कई जगहों पर मकान बनने के बाद तारें निकाली गई है और अब उन तारों को हटाने के लिए डिस्कॉम की ओर से डिमांड राशि भरवाई जा रही है। उन्होंने इस व्यवस्था को खत्म कर लोगों को राहत दिलाने तथा विद्युत तारें हटाने की मांग की। उन्होंने क्षेत्र में व्याप्त पेयजल संकट का निराकरण करने, नई पाइपलाइनें लगाकर ढाणियों को जोडऩे, जलापूर्ति सुचारु करने की मांग की। पंचायत समिति सदस्य भीखसिंह सांकड़ा ने विद्युत संबंधी समस्या के निराकरण की मांग की। हाजी रशीद मोहम्मद ने डिडाणिया व मोराणी क्षेत्र में व्याप्त पेयजल समस्या से राहत दिलाने की मांग की। जिला परिषद सदस्य कानभारती, सरपंच समंदरसिंह तंवर रामदेवरा, शिवदानसिंह नेड़ान ने भी पानी, बिजली, चिकित्सा आदि समस्याओं से अवगत करवाया। जिस पर संबंधित विभागों के अधिकारियों ने उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया।
दो युवतियों के अलावा घूंघट में ही रही अन्य महिला जनप्रतिनिधि
पंचायत समिति सांकड़ा के नवनिर्वाचित बोर्ड की पहली बैठक के दौरान महिलाओं की अच्छी संख्या देखने को मिली। पंचायत समिति सदस्य व सरपंच पदों पर आसीन कई महिलाएं बैठक में पहुंची, लेकिन दो युवतियों के अलावा अन्य महिला जनप्रतिनिधि मात्र घूंघट में ही चुप-चाप बैठी नजर आई। बैठक के दौरान डिडाणिया सरपंच मुमताज बानो ने डिडाणिया व एकां क्षेत्र में व्याप्त पेयजल संकट पर अपनी आवाज उठाई। उन्होंने क्षेत्र में बिगड़ी जलापूर्ति व्यवस्था सुचारु करने, नई पाइपलाइनें लगाकर ढाणियों को लाभान्वित करने की मांग की। इसी प्रकार पंचायत समिति सदस्य डाली ने भी पानी व बिजली समस्या के निराकरण की मांग की। इनके अलावा अन्य महिला जनप्रतिनिधि मात्र घूंघट निकाले बैठी ही नजर आई।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned