पंचायत आम चुनाव-2020: नामांकन के साथ पेश किए जाने वाले दस्तावेजों के सम्बन्ध में दिशा निर्देश जारी

नामांकन के साथ पेश किए जाने वाले दस्तावेजों के सम्बन्ध में दिशा निर्देश जारी

By: Deepak Vyas

Published: 18 Sep 2020, 02:20 PM IST

जैसलमेर. पंचायत राज संस्थाओं के आम चुनाव-2020 के तहत जिले में शेष रही 176 ग्राम पंचायतों के पंच एवं सरपंच के आम चुनाव चार चरणों में होंगे। पंच एवं सरपंच के निर्वाचन के लिए नाम निर्देशन पत्र के साथ पेश किए जाने वाले दस्तावेजों के सम्बन्ध में राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष मोदी ने बताया कि पंच व सरपंच पदों के लिए नामांकन में सभी प्रविष्टियां पूर्ण करनी अनिवार्य है। आवेदक को कोई भी कॉलम रिक्त छोडऩा नहीं हैं। उन्होंने बताया कि आवेदन पत्र में बिन्दु संख्या 01 में विचाराधीन आपराधिक मामलों के सम्बन्ध में, बिन्दु संख्या 02 में आपराधिक प्रकरणों में दोषसिद्धी से सम्बन्धित सूचना, बिन्दु संख्या 03 में संतान के सम्बन्ध में सूचना और बिन्दु संख्या 04 में सम्पति के सम्बन्ध में सूचना प्रस्तुत करनी होगी। उन्होंने बताया कि बिन्दु संख्या 01 से 03 का विवरण अभ्यर्थी की योग्यता या अयोग्यता के निर्धारण के लिए हैं। किन्तु बिन्दु संख्या 04 में सूचना केवल मतदाताओं की जानकारी के लिए हैं, इसके आधार पर अभ्यर्थी की योग्यता या अयोग्यता निर्धारित नहीं होगी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि सरपंच पद के लिए माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्णय के क्रम में न्यायालय में लम्बित मामलों, परिसम्पतियों एवं देयता (ड्यूज) की सूचना प्राप्त किए जाने के लिए उपाबन्ध 1-बी शपथ पत्र भरा जाना हैं। इस प्रारूप को 50 रुपये के गैर न्यायिक स्टाम्प पेपर (नॉन ज्युडिशियल स्टाम्प पर हो) पर नामांकन के साथ प्रस्तुत किया जाएगा। यह शपथ पत्र न्यायाधीश या किसी न्यायिक या कार्यपालक मजिस्ट्रेट या माननीय उच्च न्यायालय या सेशन न्यायालय द्वारा नियुक्त शपथ कमिश्नर या किसी नोटेरी पब्लिक द्वारा प्रमाणित (सत्यापित) होना चाहिए। किसी भी अभ्यर्थी द्वारा शपथ-पत्र का न दिया जाना इस आदेश का अतिक्रमण माना जाएगा और ऐसे अभ्यर्थी का नाम-निर्देशन-पत्र रिटर्निंग ऑफिसर द्वारा संवीक्षा करते समय नाम मंजूर करने योग्य होगा। इस शपथ-पत्र में कोई भी कॉलम खाली नहीं छोड़ा जाए। यदि किसी मद के सम्बन्ध में कोई सूचना नहीं हैं तो शून्य या लागू नहीं होता उल्लेखित किया जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों को घर में क्रियाशील स्वच्छ शौचालय तथा खुले में शौच नहीं जाने सम्बन्धी घोषणा पत्र या अण्डरटेकिंग नाम निर्देशन पत्र के साथ भरकर जमा करवाना आवश्यक हैं। उन्होंने बताया कि सभी उम्मीदवारों को नो-ड्यूज प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता नहीं हैं।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned