ठहरने के सभी 'हाऊस' फुल,देखें तस्वीरें...

Deepak Vyas

Publish: Nov, 10 2018 04:22:16 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 04:22:17 PM (IST)

Jaisalmer, Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/3

जैसलमेर. ''कैम छो '',''मजा मा'' ये और ऐसे ही कितने गुजराती भाषा के स्वर स्वर्णनगरी की फिजां में सुनने को मिल रहे है। गुजरात में दीपावली के पर्व को पांच दिन तक मनाने का रिवाज है। यह ''लाभ पंचमी'' तक चलता है। वाहन पांच दिन तक आमतौर पर सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान वगैरह भी बंद रहते है। यही वजह है कि दीपावली पर लक्ष्मी पूजन के बाद से गुजरात के सैलानी जैसलमेर का रुख कर लेते है। गुजराती सैलानियों के आगमन ने पर्यटन पर्यटन व्यवसाय में फिर से जान फूंक दी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned