रिश्तों का कत्ल:​ पिता ने लाकर दी बेहोशी की दवा, पत्नी ने बेहोश कर कानों में तार लगाकर दिया करंट

रिश्तों के कत्ल की डराने वाली कहानी सामने आई है। इसमें मरने वाले के पिता ने ही उसकी पत्नी से अवैध संबंध होने के चलते बेटे की हत्या करा दी। मामले में मृतक की पत्नी व पिता को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

By: santosh

Published: 13 May 2021, 11:04 AM IST

जैसलमेर। नाचना क्षेत्र में रिश्तों के कत्ल की डराने वाली कहानी सामने आई है। इसमें मरने वाले के पिता ने ही उसकी पत्नी से अवैध संबंध होने के चलते बेटे की हत्या करा दी। मामले में मृतक की पत्नी व पिता को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गत 6 मई को भोमराज मेघवाल ने रिपोर्ट पेश की थी कि उसके छोटे भाई हीरालाल की मृत्यु 25 अप्रेल की रात को होने पर अगले दिन 26 अप्रेल शाम को अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

हीरालाल की मृत्यु के बाद व अन्तिम संस्कार से पूर्व खींचे गए फोटो देखने पर मृतक के शव पर जगह-जगह जलने जैसे घाव दिखाई दिए। ऐसे में उन्हें हीरालाल की मृत्यु के संबंध में संदेह हुआ। इस पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया। अनुसंधान के दौरान घटनास्थल का निरीक्षण किया गया और मृतक हीरालाल के दफनाए गए शव को तहसीलदार पोकरण की उपस्थिति में फिर से निकालकर मेडिकल टीम की ओर से पोस्टमार्टम करवाया गया।

साक्ष्यों के अनुसंधान से सामने आई कहानी:
पुलिस की जानकारी में आया कि गत 25 अप्रेल को हत्या का शिकार हीरालाल व उसकी पत्नी घर के भीतर और मृतक का पिता मुकेश कुमार, मृतक की भाभी तथा बाल बच्चे घर से बाहर सोए थे। मृतक की माता अपने पीहर गई हुई थी। मृतक का घर चारों ओर से बंद होने से केवल मुख्य दरवाजा व बैठक के दरवाजे से ही भीतर प्रवेश संभव था। शेष का किसी ओर तरीके से घर के भीतर प्रवेश संभव नहीं था। ऐसे में हीरालाल की मौत के बारे में मृतक की पत्नी पारले पर संदेह हुआ।

गोली खिलाकर करंट लगा देना:
पारले से जब पुलिस ने गहनता से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसका पति हीरालाल कोई काम नहीं करता था, शराबी था। वह आए दिन लड़ाई झगड़ा भी करता था। इस वजह से उसके अपने ससुर से लम्बे समय से अवैध संबंध थे। गत 25 अप्रेल को शाम को ससुर ने उसे दो नींद की गोलियां दीं और कहा कि शाम को गोली खिलाकर हीरालाल को गहरी नींद आने पर करंट लगा देना। सभी खाना खाकर सो गए। ससुर, जेठानी व बच्चे बाहर सो गऐ। वह और उसका पति चौक में सो गए।

पहले किया बेहोश, फिर करंट किया चालू:
पारले ने कबूला कि रात्रि करीब 11. 30 बजे नींबू पानी में गोलियां डालकर पति को पिला दी, जिससे वह बेहोश हो गया। उसके बाद उसने एक्सटेंशन बोर्ड लगाकर उसमें तार डालकर पति के कानों में डालकर करंट चालू कर दिया। करीब 10-15 मिनट चालू रखकर उसने बंद कर दिया। उसके पति हिले डुले नहीं। उसके बाद वह सो गई। सुबह उसके ससुर मुकेश कुमार ने गांव वालों को बुलाया व कंपाउडर को बुलाया तो उसका पति मरा हुआ था। इसके बाद पारले के पीहर पक्ष वालों को भी बुलाया। उसके पिता, चाचा, भाई व जेठ भेमराज ने पुलिस कार्रवाई के लिए कहा, लेकिन मृतक के पिता मुकेश कुमार नही माने। शाम को अंतिम संस्कार कर दिया गया। मृतक हीरालाल के शरीर पर स्पष्ट चोटें होने के बावजूद पोस्टमार्टम नहीं करवाने, कई जनों के कहने के बावजूद पुलिस कार्रवाई नहीं करवाने और अन्य परिस्थितिजन्य साक्ष्यों के आधार पर पारले पत्नी हीरालाल मेघवाल और मुकेश कुमार मेघवाल निवासी आसकन्द्रा को गिरफ्तार किया गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned