बहेंगी सुर सरिताएं तो धोरों पर होगा मनोहारी प्रस्तुतियों की धमाल

रेत के समंदर में जुटेगा सैलानियों का कुंभ
-पहली बार कई नवीन कार्यक्रम जगाएंगे आकर्षण

By: Deepak Vyas

Published: 21 Feb 2021, 07:44 PM IST


जैसलमेर. मरु भूमि पर 24 से 27 फरवरी तक आयोजित परम्परागत जग विख्यात मरु महोत्सव इस बार कई नवीन आकर्षणों से भरा रहेगा। मरु महोत्सव के पहले दिन 24 फरवरी, बुधवार को महोत्सव का आगाज शाम 6 बजे सोनार किला स्थित लक्ष्मीनाथजी मन्दिर पर आरती से होगा। इसके बाद वहीं से शाम 6:30 बजे हेरिटेज वॉक होगी। यह वॉक लक्ष्मीनाथजी मन्दिर से शुरू होकर मुख्य बाजार से होते हुए गड़ीसर झील पहुंचेगी। हेरिटेज वॉक में सम्मिलित होने वाले प्रतिभागी साफा एवं स्थानीय वेशभूषा में हिस्सा लेंगे। इस दिन शाम को 6 बजे गड़ीसर झील क्षेत्र में चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित होगी। हेरिटेज वॉक के शाम 7 बजे गड़ीसर झील पहुंच कर सम्पन्न होने पर चित्रकला प्रतियोगिता के परिणाम घोषित किए जाएंगे। बुधवार संध्या 7 से 7:30 बजे तक गड़ीसर झील में सामूहिक दीपदान उत्सव होगा। इसमें 21 हजार दीये जलाकर जल में प्रवाहित किए जाएंगे।
रात्रि 8 बजे शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में बालीवुड कलाकार कैलाश खैर की ओर से शॉल फुल प्रस्तुति का कार्यक्रम होगा। इसके बाद रात्रि 10 बजे स्थानीय रंगमंचीय कलाकारों की ओर से परम्परागत लोक नाट्य रम्मत कार्यक्रम शुरू होगा, जो भोर होने तक चलेगा।
दूसरे दिन निकलेगी शोभा यात्रा
महोत्सव के दूसरे दिन गुरुवार को प्रात: 9:30 बजे सोनार दुर्ग के प्रथम पोल से विराट शोभायात्रा निकलेगी। यह गोपा चौक, गांधी चौक आदि मुख्य मार्गों होते हुए प्रात: 10:30 बजे शहीद पूनमसिंह स्टेडियम पहुंचेगी। शोभायात्रा में सजे-धजे ऊंट, विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने वाले प्रतिभागी, बीएसएफ के ऊंट सवार जवान, विभिन्न बैण्ड्स, मूमल-महेन्द्रा की झांकियां आदि शामिल होंगी। इसमें जिलाधिकारी, जनप्रतिनिधि, विभिन्न संस्थाओं और संगठनों के प्रतिनिधिए शहरवासी शामिल होंगे। लोक कलाकारों के समूह रास्ते में विभिन्न स्थानों पर सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देते चलेंगे।
प्रात: 10:30 बजे शहीद पूनमसिंह स्टेडियम में 10 हजार गोल्डन गुब्बारे छोड़े जाएंगे जो कि जैसलमेर के आसमान को स्वर्णिम आभा से भर देंगे।प्रात: 10:45 बजे से डेढ़ बजे तक मरु महोत्सव की विभिन्न प्रतिस्पर्धाएं होंगी। इनमें साफा बांध, मूमल-महेन्द्रा, मूंछ प्रतियोगिताएं मिस मूमल, मिस्टर डेजर्ट प्रतियोगिताएं शामिल हैं। गुरुवार को ही दिन में पूनम स्टेडियम में जाने-माने सैंड आर्टिस्ट अजय रावत पुष्कर की ओर से मरुस्थलीय लोक जीवन का दिग्दर्शन कराने वाली सेंड आर्ट आकृतियां दर्शायी जाएंगी। इस दिन दोपहर 1:30 से अपराह्न 4 बजे तक जैसलमेर शहर में में डाईन विद जैसलमेर कार्यक्रम निर्धारित है। इसके तहत गांधी चौक स्थित नाचना हवेली के आगे सभी पर्यटक एकत्रित होंगे तथा वहां से आतिथ्य सत्कार पाने के लिए विभिन्न समूहों में शहरवासियों के घर पहुंच कर जैसाण के लजीज व्यंजनों का लुत्फ उठाएंगे। इस दौरान पर्यटकों की आवभगत वाले स्थलों पर लोक कलाकार लोक वाद्यों की सुमधुर स्वर लहरियों के साथ मनोहारी प्रस्तुतियों का आनंद देंगे। कार्यक्रम के दौरान पर्यटक कलाकारों और संस्कृतिकर्मियों से सीधा संवाद कायम करते हुए अपनी जिज्ञासाओं का शमन कर सकेंगे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned