scriptInflation breaking the back of cattle farmers, fodder prices on the sk | Video: पशुपालकों की कमर तोड़ रही मंहगाई, चारे के भाव आसमान पर | Patrika News

Video: पशुपालकों की कमर तोड़ रही मंहगाई, चारे के भाव आसमान पर

- चारा डिपो खोलने के लिए कोई भी संस्था नही आ कर रही पहल
- भीषण गर्मी में बिना चारा पानी के पशुधन हुआ बेहाल

जैसलमेर

Updated: May 09, 2022 07:06:12 pm

रामदेवरा.क्षेत्र में एक भी चारा डिपो नही खुलने से क्षेत्र के बेसहारा पशुधन के सामने चारे पानी की समस्या होने से बेहासहारा पशुधन अपनी जठराग्नि को शांत करने के दर दर भटकने को मजबूर है। वही महंगे चारे के चलते पशुपालक भी अपने पालतू पशुओं के चारे को लेकर परेशान है।जानकारी के अनुसार क्षेत्र में दो दशक से लगातार गिरते जल स्तर से जहां पानी की कमी हो रही है। वहीं चारे का उत्पादन बहुत कम होने से चारे के भाव आसमान छू लगे है। जिससे किसानों व पशुपालकों के सामने पशुओं को रखने की भीषण समस्या उत्पन्न हो गई है।यदि चारे के भाव इसी तरह बढ़ते रहे तो किसान व पशुपालक अपने पशुओं को छोडऩे के विवश होना पड़ेगा। क्षेत्र में जहां गत वर्ष चारे का भाव 500 से 800 रुपए प्रति क्विटल थे। वहीं इस समय चारा 1000 से 1400 रुपए प्रति क्विंटल के भाव से बिक रहा है। क्षेत्र में चारे की गंभीर समस्या उत्पन्न हो गई है और पशुपालकों और किसानों को चारे के लिए काफी परेशान होना पड़ रहा है। किसानों ने बताया कि राम के रूठने के साथ-साथ राज भी रूठता जा रहा है। चारे की गंभीर समस्या को देखते हुए तत्काल प्रभाव से क्षेत्र में सरकारी चारा डिपो खोलकर पशुधन को बचाया जा सकता है।
पशुपालकों की कमर तोड़ रही मंहगाई,चारे के भाव आसमान पर
पशुपालकों की कमर तोड़ रही मंहगाई,चारे के भाव आसमान पर
गायों की सबसे ज्यादा दुर्दशा
क्षेत्र में करीब 5 हजार गाय है।क्षेत्र में विभिन्न जगहों पर गायों के झुण्ड इधर-उधर चारे के लिए भटकते दिखाई देते है। चारे के भाव आसमान छूने से पशुपालक भी पशुधन बहुत कम ध्यान देते है जिससे क्षेत्र में गायों की सबसे अधिक दुर्दशा हो रही है। खेतो में गत साल अच्छी बरसात के अभाव में पर्याप्त चारा नही हुआ। जिसके चलते चारे की क्षेत्र में कमी हैं।
तत्काल खुले चारा डिपो
पशुपालकों ने बताया कि तेजी से बढ़ रही मंहगाई और पानी की कमी से क्षेत्र में लगातार किसानों की आर्थिक स्थिति बद से बदतर हो गई है। इसलिए उचित दर पर चारा उपलब्ध करवाने के लिए सहकारी समिति के माध्यम से जगह-जगह चारा डिपो खोलकर सहायता करनी चाहिए। वही गत दिनों चारा डिपो खोलने की सूची में रामदेवरा क्षेत्र से कोई भी चारा डिपो का नाम नही आया। इस बारे में पता करने पर जानकारी मिली कि क्षेत्र में चारा डिपो खोलने में किसी भी संस्था ने इस बार रुचि नहीं दिखाई। जिसके चलते क्षेत्र में एक भी चारा डिपो नही खुला है।
मंहगाई ने बढ़ा दिए चारे के दाम
किसानों ने बताया कि मंहगाई पर सरकार का अंकुश नहीं होने से किसानों के सामने से परिवार पालने के लाले पड़े हुए है साथ ही पशुओं को चारा खिलाने की समस्या भी उत्पन्न हो गई है। ऐसे में महंगे चारे के अलावा कोई रास्ता नजर नहीं आ रहा है।
भीषण गर्मी में बेसहारा पशुओं को कोई सहारा नहीं
क्षेत्र की सड़के हो या हाइवे के किनारे पशुधन के झुंड भीषण गर्मी में चारे और पानी के अभाव में मारे मारे फिर रहे है। तापमान 45 डिग्री होने पर पशुधन की हालत पर्याप्त छाया नही मिलने पर भी खराब हो रही है। क्षेत्र में बेसहारा पशु धन के लिए यहां न तो उनके लिए चारे और पानी की पर्याप्त व्यवस्था है, और न ही धूप से बचाव के लिए कोई साधन। हालत यह है कि तपती धूप में भूख प्यास से यह बेजुबान पशुधन दम तोड़ रहा हैं।तपती गर्मी में आश्रय स्थलों के बजाय बेसहारा पशु भगवान भरोसे ही हैं।
भरपेट भोजन न मिलने के कारण कमजोरी और तेज धूप में छाया न मिलने के कारण यह पशुधन दम तोड़ रहा हैं।
फैक्ट फाइल
सूखा चारा चार माह पहले वर्तमान भाव
मूंगफली चारा 625 1375
फळकटी 800 1300
कुतर 600 1250
चनाकट 500 1000

इनका कहना
महंगे दाम के बावजूद पशुधन के लिए चारा नही मिल रहा हैं। जिसके कारण काफी परेशानी हो रही हैं। किसान और पशुपालक दोनो ही चारे के अभाव महंगाई से परेशान हैं।
- सुखराम बिश्नोई, किसान ,रामदेवरा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

किडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, जिस दिन करना था सरेंडर उसी दिन ली शपथदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल आज लॉन्च करेंगे ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, 2024 पर नजरसुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी होTrain Accident: महाराष्ट्र के गोंदिया में रेल हादसा, पैसेंजर ट्रेन ने मालगाड़ी को मारी टक्कर; दो यात्री घायलमहागठबंधन सरकार बनने के बाद आज पटना में नीतीश कुमार से मिलेंगे राजद सुप्रीमो लालू यादव, इन मुद्दों पर होगी बातElon Musk News : ट्विटर से डील रद्द करने वाले एलन ने अब Twitter पर ही किया एक और कंपनी खरीदने का ऐलान और फिर मारी पलटी!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.