Jaisalmer- ऐसा क्या हैजैसलमेर के इस गांव में कि जलने के बाद बंद नहीं होती लाइट्स

By: jitendra changani

Published: 25 Oct 2017, 10:39 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/5

अठार अभिषेक जिनालय शुद्धिकरण महोत्सव संपन्न जैसलमेर . खी मत जैन श्रीसंघ व जैन ट्रस्ट के तत्वावधान में दुर्ग स्थित चिंतामणी पाŸवनाथ जिनालय में अठार अभिषेक व जिनालय शुद्धिकरण महोत्सव जैन साध्वी विनितयशा, प्रसुमिता व अर्हमनिधि की निश्रा में विधिकारक चंन्द्रकांत भाई, डीसा निवासी सुनील भाई, राजू भाई, विक्रम भाई ने शास्त्रोक विधिविधान से अठार अभिषेक करवाया। प्रवक्ता महेन्द्र भाई बापना ने बताया कि चिंतामणी पाŸवनाथ भगवान की मूर्ति का अभिषेक व सूर्य चंन्द्र दर्शन व शांति कलश का लाभ खि मत निवासी सरोज बेन, पोपट भाई शाह परिवार ने लिया। इस अवसर पर उन्होने 108 महाआरती व मंगलदीपक कर देश प्रदेश में अमन चैन व खुशहाली की कामना की। इस अवसर पर साध्वी विनितयशा ने कहा कि अठार अभिषेक जिनप्रतिमाओं का दूध, घी, 108 पवित्र नदियों व तीर्थों का जल व विभिन्न ओषधियों से शुद्धिकरण अभिषेक से व्यक्ति के विचारों व आत्मा का भी कल्याण होता है। उन्होंने बताया कि वर्ष में एक बार मंदिरों में परमात्मा का अभिषेक करवाने से मंदिरों में लगी हुई असातना एवं अशुद्धियां दूर हो जाती है। महोत्सव में बाड़मेर की गौरव मालू एवं पार्टी ने संगीत से जैन भजनों की प्रस्तुतियां देकर श्रद्धालुओं को नाचने पर मजबूर कर दिया। पूरा मंदिर जयकारों से गूंज उठा।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned