JAISALMER NEWS- इस क्षेत्र में माउंट आबू के बाद प्रदेश का दूसरा ठिकाना बना जैसलमेर

छुट्टियों के क्लब से मजबूत जैसलमेर पर्यटन....... - साल में तीन सौ करोड़ का अतिरिक्त व्यवसाय का जरिया बना

By: jitendra changani

Updated: 10 Mar 2018, 10:18 PM IST

गत वर्ष टूटे अब तक के सभी रिकार्ड, एक वर्ष में बढ़ा तीन गुना टर्न ओवर

जैसलमेर. राजस्थान में इससे पहले केवल माउंट आबू ही 'वीकेंड ट्यूरिज्म' के लिए मशहूर था। अब हर सप्ताह दो दिनों के दौरान लगने वाली भीड़ से जैसलमेर के पर्यटन को साल भर में अनुमानित रूप से 300 करोड़ रुपए का फायदा करवाना शुरू कर दिया है।

अब तो सीजन बारहमासी
-जब शनिवार-रविवार के साथ शुक्रवार अथवा सोमवार को कोई एक और सार्वजनिक अवकाश आ जाता है, तब तो शहर में पर्यटन का 'बूमÓ नजर आने लगता है।
-पर्यटन से कमोबेश अधिकांश काम-धंधों का जुड़ाव होने के कारण अब यहां के लोगों को गर्मी के मौसम में भी रोजगार के लिहाज से कोई दिक्कत नहीं आई।
-पहले स्वर्णनगरी में पर्यटन व्यवसाय को छह या अधिक से अधिक आठ माह तक का माना जाता था, उसे बारहमासी स्वरूप देने में घरेलू सैलानियों की अहम भूमिका सामने आ रही है।
बढ़ते ग्राफ से सुखद संकेत
-जैसलमेर में घरेलू पर्यटकों का आगमन विगत वर्षों के दौरान लगातार बढ़ता चला गया है।
-चार वर्ष में ही जैसलमेर का घरेलू पर्यटन ढाई-तीन गुना तक बढ़ गया है।
-महज १५ वर्ष पहले तक जैसलमेर में कुछ हजार देशी सैलानी ही घूमने के लिए आते थे।
-घरेलू पर्यटकों से जैसलमेर के पर्यटन व्यवसाय को समग्र रूप से भारी सम्बल मिला है।
-शुरुआती दौर में पड़ोसी गुजरात व पश्चिम बंगाल प्रांतों के पर्यटक घूमने आते थे या जैन तीर्थयात्री यहां धार्मिक पर्यटन पर पहुंचते।
-अब देश के करीब सभी हिस्सों के सैलानी स्वर्ण-धरा का भ्रमण करने आ रहे हैं।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

टर्न ओवर 1200 करोड़
-जानकारों के अनुसार जैसलमेर पर्यटन ने गत वर्ष १२०० करोड़ रुपए का टर्न ओवर किया है। यह अब तक का सर्वाधिक है।
-बीते साल में पहली बार स्वर्णनगरी में पर्यटकों की आवक आधिकारिक रूप से 6 लाख से पार चली गई। विदेशी सैलानियों की तुलना में तीन गुना से अधिक संख्या देशी पर्यटकों की रही।

वर्ष 2017 के आधिकारिक आंकड़े
माह देशी सैलानी विदेशी सैलानी
जनवरी 45690 11609

फरवरी 35567 10302

मार्च 31200 9133

अप्रेल 30316 8412
मई 28807 5074

जून 25720 5606
जुलाई 32239 8259

अगस्त 35740 9230

सितम्बर 41205 10344

अक्टूबर 55530 12105
नवम्बर 61236 13877

दिसम्बर 70505 18900

हर सप्ताह सैलानी बढऩे से बढ़ा टर्नओवर
शनिवार और रविवार की छुट्टियों में यानी 'वीकेंडÓ में बड़ी संख्या में पड़ोसी राज्य गुजरात के साथ पंजाब, दिल्ली, हरियाणा के साथ राजस्थान के ही अन्य शहरों से बड़ी तादाद में सैलानी जैसलमेर पहुंच जाते हैं। गत वर्ष छह लाख से अधिक पर्यटक यहां आए और पर्यटन के वार्षिक टर्नओवर में तीन गुना बढ़ोतरी हुई।
-केके व्यास, अध्यक्ष,
सम कैम्प एंड रिसोटर््स वेलफेयर सोसायटी, सम, जैसलमेर

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned