Jaisalmer video- स्वर्ण नगरी पहुंची महिला कैमल सफारी, तो ऐसे बढ़ाया इनका हौसला

स्वर्णनगरी में महिला कैमल सफारी का हुआ स्वागत
- मोटरसाइकिल रैली का आयोजन 

By: jitendra changani

Published: 01 Sep 2017, 07:41 PM IST

जैसलमेर . भारतीय वायुसेना व सीमा सुरक्षा बल की संयुक्त महिला कैमल सफारी गुरुवार को डाबला से सुबह 10 बजे सीमा सुरक्षा बल की 119वी वाहिनी कैम्पस पहुंची। यहां उप महानिरीक्षक क्षेत्रिय मुख्यालय सीसुबल अमित लोढ़ा, समादेष्टा जितेन्द्र कुमार, राजीव अग्निहोत्री, रतनलाल बागडिय़ा सहित अन्य अधिकारी, अधीनस्त अधिकारी व अन्य कार्मिकों ने स्वागत किया। इसके बाद उप महानिरीक्षक अमित लोढ़ा ने मीडिया से रूबरू हुए। उन्होंने जांबाज बेटियों की तारीफ करते हुए कहा कि वे एक अच्छे अभियान पर चल रही हैं और वर्तमान में महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरुषों से पीछे नहीं हैं। सीमा सुरक्षा बल व देश के अन्य बलों मे भी महिलाएं बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं। यह समाज और देश के विकास के लिए अच्छा संकेत है। इसके बाद सुबह 10:30 बजे उप महानिरीक्षक अमित लोढ़ा व जिला एवं सत्र न्यायालय न्यायधीश मदनलाल भाटी ने हरी झंडी दिखाकर कैमल सफारी दल को रवाना किया। कैम्पस के बाहर विवेकानंद सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रधानाचार्य भगवानसिंह, अध्यापिकाओं और बालिकाओं ने पुष्प वर्षा व मालार्पण कर कैमल सफारी दल का अभिनंदन किया। 11 बजे कैमल सफारी दल गड़ीसर चौक पहुंचा जहां पर सम सैंड डयुन्स रिसोट ऐसोसिएशन के अध्यक्ष कैलाश व्यास एवं अन्य रिसोर्टस मालिको ने कैमल सफारी दल का ढोल व नगाड़ो के साथ स्वागत किया तथा फूलों के गुलदस्ते भेंट किए। इस दौरान सचिव गुलाम कादिर, उपाध्यक्ष उस्मान खान, भेरोसिंह लूना, सलीम खां, सलीम खान, जमाल खां, फिरोज खां, मौला खां, मालिक, नारायणदान उपस्थित थे। इस दौरान संभागियों को शीतल जल व जूस पिलाकर स्वागत किया गया। इसी प्रकार पर्यटक गाइड एसोसिएशन के सदस्य नारायण दास रतनू एवं अन्य गाइड्स ने भी गरम जोशी के साथ स्वागत किया। 11:30 बजे आई लव जैसलमेर संस्था के वाइस प्रेसीडेंट विमल गोपा और सोनार किले के वासियो ने सोनार किले के मुख्य द्वार से गोपा चौक तक दल का स्वागत किया। इसके बाद शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए 12:15 बजे कैमल सफारी दल हनुमान चौराहा पहुंचा जहां बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान से जुड़े हिम्मत चौधरी ने अपनी संस्था के महिला एवं पुरुष कार्यकर्ताओं के साथ तालियों की गूंज मे बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के नारे लगाकर स्वागत किया व मालार्पण किया। 12:45 बजे कैमल सफारी दल सीसुबल सम रोड स्थित 56वीं वाहिनी के मुख्य द्वार पर पहुंचा। इसके बाद पी पी मिश्रा रॅायल डेसर्ट कै म्प के संचालक ने गोटवा लड्डू खिलाकर स्वागत किया। इसके बाद दल ने 119वीं वाहिनी के लिए पुन: प्रस्थान किया। शाम को जिला विधिक सेवा प्राधीकरण के सम्मेलन कक्ष में मदनलाल भाटी न्यायधीश जिला एवं सत्र न्यायालय जैसलमेर, कैलाश मीणा एवं अमित लोढ़ा ने महिलाओं के लिए कौशल साहस एवं इस क्षेत्र में की गई महत्वपूर्ण पहल के लिए प्रशस्ति-पत्र प्रदान किए।

सीमाजन कल्याण समिति ने किया स्वागत
जैसलमेर . महिला केमल सफारी के जैसलमेर पहुंचने पर सम रोड स्थित बीएसएफ बटालियन मुख्यालय पर सीमाजन कल्याण समिति ने अभिनंदन किया। समिति के जिला मंत्री शरद व्यास ने बताया कि केमल सफारी दल की महिला अधिकारियों को सीमाजन की महिला विंग की ओर से माल्यार्पण कर स्वागत किया। प्रदेश संगठन मंत्री राजस्थान-गुजरात नीम्बसिंह ने समिति की तरफ से स्मृति चिन्ह भेंट किया। जिला टीम के वासुदेव, अमरसिंह सोढा, वीरेन्द्रसिंह बैरसियाला, टीकमचंद जीनगर, भूरसिंह बीदा, रुपचंद जीनगर, गर्विता अग्निहोत्री, शगुन गर्ग, सुगना बोरावट, चंचल जीनगर आदि ने समिति के संगठनात्मक कार्यों संबंधी साहित्य भेंट किया। इस अवसर पर सीमा सुरक्षा बल के 119 बटालियन कमान्डेन्ट रतन बगडिय़ा, डिप्टी कमांडेट सुभाष ढाका, 119 बटालियन के रामलाल बेनीवाल आदि उपस्थित थे।
आज निकालेंगे मोटर साइकिल रैली
शुक्रवार सुबह 10 बजे मोटर साइकिल रैली का आयोजन किया जाएगा। इसमे सीसुब अधिकारी, अधीनस्त अधिकारी व अन्य कार्मिक भाग लेंगे। रैली को उपमहानिरीक्षक अमित लोढ़ा हरी झंडी दिखाकर 119वीं वाहिनी मुख्यालय से ब्रहमसर के लिए रवाना करेंगे। शाम को 119वीं वाहिनी परिसर में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा।

 

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने किया स्वागत
जैसलमेर. जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से गुरुवार को एडीआर सेंटर में बेटी बचाओ-बेटी पढाओ का संदेश लेकर निकली एयरफोस और सीमा सुरक्षा बल की महिला अधिकारियों का स्वागत किया गया। कार्यक्रम के दौरान जिला एवं सेशन न्यायाधीश मदनलाल भाटी, अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश महेश कुमार शर्मा, डीआईजी बीएसएफ (उ0) अमित लोढा, जिला कलेक्टर कैलाश चन्द मीना, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, पूर्णिमा गौड, पूर्णकालिक सचिव, डॉ. महेन्द्र कुमार गोयल, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रवीण चौहान, उपाधीक्षक नरेन्द्र दवे, बार उपाध्यक्ष इंदरसिंह भाटी, वरिष्ठ व्याख्याता बराईदीन सांवरा, अधिवक्ता अरविंद कुमार गोपा, श्यामपालसिंह, विपिन कुमार व्यास आदि उपस्थित थे। जिला एवं सेशन न्यायाधीश मदनलाल भाटी ने सैन्य अधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान का मुख्य उददेश्य बालिकाओं को बचाने एवं उनको पढाने के संबंध में संदेश देना है। उन्होने कहा कि आमजन में यह धारणा पैदा करनी है कि बेटी को भी बच्चे के जन्म की तरह उत्सव के रूप में मनाना है, वहीं यह सीख देनी है कि आज के युग में बेटियां किसी भी स्तर पर बेटों से कम नहीं है।

patrika
IMAGE CREDIT: Jaisalmer patrika
Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned