जैसलमेर शहर में संक्रमित के परिवारजनों की रिपोर्ट का इंतजार

- संक्रमण बढ़ा तो फैलाया जाएगा जांच का दायरा

By: Deepak Vyas

Published: 12 May 2020, 10:01 PM IST

जैसलमेर. शहर में पहले कोरोना संक्रमित को उपचार के लिए बीती देर रात्रि जोधपुर रवाना किया गया। उनके परिवारजनों के कोविड-१९ के सेम्पल लेकर जांच के लिए बाड़मेर भिजवाए गए हैं। उनकी रिपोर्ट का प्रशासन व चिकित्सा महकमे को इंतजार है। यदि परिवारजन संक्रमित पाए गए तो जिला प्रशासन जांच का दायरा बढ़ाते हुए अन्य संबंधितों के सेम्पल लेगा अन्यथा कोरोना की चेन नहीं बनने की स्थितियों में ज्यादा सेम्पल लेने की जरूरत नहीं होगी और पहले संक्रमित के घर के ५०० मीटर के दायरे में लागू किए गए कफ्र्यू को कुछ दिनों बाद हटाया जा सकता है। इधर, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने सोमवार और मंगलवार को दो दिनों के दौरान जैसलमेर मुख्यालय पर करीब १०० जनों के सेम्पल एकत्रित किए हैं। सीएमएचओ डॉ. बीके बारूपाल ने बताया कि जांच रिपोर्ट के नतीजे मंगलवार देर रात या बुधवार दिन में आ जाएंगे। जानकारी मिली है कि संक्रमित के परिवारजनों को सेम्पल लेने के बाद जिला मुख्यालय स्थित निजी चिकित्सालय में ऐहतियात के तौर पर रखा गया है।
कफ्र्यू वाले क्षेत्र में आवाजाही पर पूर्णतया रोक
दूसरी ओर शहर के भीतरी वार्डों में आए शारदा पाड़ा, पटवा हवेली क्षेत्र, केला पाड़ा, चूरा पाड़ा, गंगणा पाड़ा, राखेचा पाड़ा, थानवी पाड़ा, कुम्हार पाड़ा आदि में गलियों के मुहानों पर बैरिकेटिंग कर आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। इन क्षेत्रों में सोमवार शाम से कफ्र्यू लगा दिया गया था। मंगलवार को प्रशासन की ओर से इन क्षेत्रों में आवश्यक सामान के तौर पर दूध, किराणा की आपूर्ति करवाई गई। सब्जी नहीं पहुंची। कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्रों में आवाजाही पर पूरी तरह से रोक है तथा पुलिस व होमगार्ड के कार्मिक तैनात हैं।

स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में
जैसलमेर में एक संक्रमित के सामने आने के बाद स्थिति नियंत्रण में है। लोगों को घबराने की कोई जरूरत नहीं है। सभी जरूरी उपाय किए जा रहे हैं। संक्रमित के परिवारजनों की रिपोर्ट के नतीजे आने का इंतजार किया जा रहा है।
- नमित मेहता, जिला कलक्टर, जैसलमेर

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned