scriptKeeping in view the canalization, there is a need to store sufficient | नहरबंदी को ध्यान में रखते हुए पीने के पानी का पर्याप्त मात्रा में भण्डारण कराने की जरूरत | Patrika News

नहरबंदी को ध्यान में रखते हुए पीने के पानी का पर्याप्त मात्रा में भण्डारण कराने की जरूरत

-नहरबंदी को लेकर जलदाय एवं नहर विभाग के साथ ही

जैसलमेर

Updated: February 24, 2022 08:33:12 pm

जैसलमेर. इंदिरा गांधी नहर परियोजना में आगामी 21 मार्च से 19 मई तक नहरबंदी प्रस्तावित है। जिला कलक्टर डॉ. प्रतिभासिंह ने प्रस्तावित नहरबंदी को ध्यान में रखते हुए जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे नहरबंदी से पूर्व उनके पेयजल भंडारण के जितने भी स्त्रोत है, उनको पूरी मात्रा में भरवा दें, ताकि उस दौरान लोगों को पीने का पानी पर्याप्त मात्रा में मिले। जिला कलक्टर डॉ. सिंह ने गुरुवार को जिला कलक्ट्री सभाकक्ष में प्रस्तावित नहरबंदी केे सम्बन्ध में आयोजित बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर हरिसिंह मीना, उपखण्ड अधिकारी दौलतराम चौधरी, दिनेश विश्नोई, राजेश कुमार, उपायुक्त उपनिवेशन जब्बरसिंह चारण, अतिरिक्त मुख्य अभियंता इगांनप राकेश कुमार गुप्ता, अतिरिक्त मुख्य अभियंता रेगुलेशन बीकानेर प्रदीप रूस्तगी, अधीक्षण अभियंता हरीश चत्वानी, भगवानाराम विश्नोई, हरीतलाल मीना, अधीक्षण अभियंता जलदाय दिनेश नागौरी के साथ ही अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
पर्याप्त मात्रा में पानी का स्टोरेज करे
जिला कलक्टर डॉ. सिंह ने नहर परियोजना एवं जलदाय विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अभी से ही नहरबंदी के दौरान पीने के पानी की कितनी जरूरत रहेगी, उसका अंाकलन कर उसी अनुरूप पर्याप्त मात्रा में पानी स्टोरेज कराने की कार्यवाही करें। उन्होंने नहर परियोजना के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जलदाय विभाग की मांग के अनुरूप नहर में पर्याप्त मात्रा में पानी चलाएं, ताकि वे अभी से ही उनके पेयजल भण्डारण के स्त्रोतों को पानी से पूरा भरवा दे। उन्होंने दोनों विभागों को टीम भावना से समन्वय रखते हुए पेयजल प्रबंधन पर कार्य करने पर जोर दिया ताकि नहरबंदी के दौरान ग्रीष्म ऋतु में लोगों को पीने के पानी की किसी प्रकार की समस्या नहीं झेलनी पड़े। उन्होंने इस दौरान नहर से पानी की चोरी न हो उसके लिए पेट्रोलिंग व्यवस्था पर भी चर्चा की एवं कहा कि इस सम्बन्ध में भी आवश्यक कार्यवाही समय रहते सुनिश्चित की जाएगी।
पीने के लिए पर्याप्त मात्रा में नहरों में हो रही है पानी आपूर्ति
मुख्य अभियंता राकेश कुमार गुप्ता एवं प्रदीप रूस्तगी ने बताया कि इन्दिरा गांधी नहर में 21 मार्च से 19 मई तक नहरबंदी प्रस्तावित है। उन्होंने वर्तमान में नहरों में चल रहे पानी के बारें में भी विस्तार से जानकारी दी एवं जलदाय विभाग के अधिकारियों को कहा कि वे अंतिम छोर तक पेयजल के स्त्रोतों को अभी से ही पानी से भरवाना प्रारम्भ कर दें। उन्होंने यह भी विश्वास दिलाया कि जलदाय विभाग की मांग के अनुरूप नहर में पर्याप्त मात्रा में पोडिंग में पानी रिजर्व रखा जाएगा। अधीक्षण अभियंता जलदाय दिनेश नागौरी ने बैठक में बताया कि जलदाय विभाग के सबसे बड़े पानी के स्टोरेज मोहनगढ़ के साथ ही अन्य जगह पर बनी बड़ी-बड़ी डिग्गियों, जोहड़ आदि में पानी भण्डारण की कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गई है और नहर विभाग के अभियंताओं से समन्वय रखते हुए पर्याप्त मात्रा में पीने के पानी का भण्डारण सुनिश्चित करेंगे।
नहरबंदी को ध्यान में रखते हुए पीने के पानी का पर्याप्त मात्रा में भण्डारण कराने की जरूरत
नहरबंदी को ध्यान में रखते हुए पीने के पानी का पर्याप्त मात्रा में भण्डारण कराने की जरूरत

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

BJP राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: PM नरेंद्र मोदी ने दिया 'जीत का मंत्र', जानें प्रधानमंत्री के संबोधन की बड़ी बातेंबिहार में बारिश व वज्रपात से 37 लोगों की मौत, जानिए बिहार में क्यों गिरती है इतनी आकाशीय बिजली?Pegasys Spyware Case: सुप्रीम कोर्ट ने जांच समिति का कार्यकाल 4 हफ्ते बढ़ाया, अब जुलाई में होगी सुनवाईRaj Thackeray Ayodhya Visit: राज ठाकरे की अयोध्या यात्रा स्थगित, पांच जून को रामलला का दर्शन करने वाले थे मनसे प्रमुखलालू के ठिकानों पर CBI Raid; सामने आई RJD की पहली प्रतिक्रिया, मात्र 5 शब्द में पूरे सिस्टम को लपेटाअनिल बैजल के इस्तीफे के बाद कौन होगा दिल्ली का उपराज्यपाल? चर्चा में हैं ये 5 नामRoad Rage Case: नवजोत सिंह सिद्धू ने सरेंडर के लिए कोर्ट से मांगा वक्त, खराब सेहत को बताया कारणबेंगलुरू हवाईअड्डे को बम से उड़ाने की धमकी, अधिकारियों ने शुरू की जांच
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.