JAISALMER CRIME- यह दो युवक युवति को भगा ले गए थे, पुलिस ने पकड़ा और फिर...

बहला फुसलाकर किशोरी को भगाया, दो गिरफ्तार- बिलाड़ा में आई माता के दर्शन कर लौटे थे फलोदी

By: jitendra changani

Published: 20 Mar 2018, 11:14 PM IST

- किशोरी के रिस्तेदार ने देखा तो पुलिस को सौंपा
पोकरण . क्षेत्र के रामदेवरा गांव में सोमवार को दर्शन के लिए गई एक किशोरी को दो युवक बहला फुसलाकर भगा ले गए। इसको लेकर मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया है।
रामदेवरा पुलिस के अनुसार पोकरण निवासी एक व्यक्ति ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि उसकी नाबालिग पुत्री सोमवार को रामदेवरा दर्शन करने के लिए गई थीं। यहां से रामपुरा चौक निवासी कमलेश पुत्र रेशमाराम मेघवाल व भरतकुमार पुत्र डावराराम मेघवाल उसे शादी की नीयत से बहला फुसलाकर ले गए।
फलोदी में रिश्तेदारों ने पकड़ा
घटना के बाद दोनों युवक बालिका को रामदेवरा से जोधपुर ले गए। वहां से बिलाड़ा में आईमाता के दर्शन के बाद मंगलवार सुबह वे फलोदी रेलवे स्टेशन पहुंचे। यहां फलोदी निवासी बालिका के मामा ने उन्हें देख लिया तथा तीनों को पकडकऱ रामदेवरा थाने लेकर आए। पुलिस ने बालिका को बहला फुसलाकर भगाकर ले जाने के आरोप में मामला दर्ज कर जांच शुरू की तथा दोनों आरोपितों को गिरफ्तार किया। जिन्हें बुधवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

 

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

जवान की पुत्री के नाम करवाई डेढ लाख रुपए की एफडी
पोकरण. सीमा सुरक्षा बल में कार्यरत विश्रोई समाज के युवकों ने व्हाट्सअप के माध्यम से एक ग्रुप बनाकर गत दिनों सडक़ दुर्घटना में हुई जवान की मौत पर उनके परिजनों को आर्थिक सहायता सुपुर्द की। सामाजिक कार्यकर्ता राधेश्याम पेमाणी ने बताया कि बीएसएफ में कार्यरत विश्रोई समाज के जवानों ने व्हाट्सअप पर जांभाणी बीएसएफ नाम से ग्रुप बनाया। इस ग्रुप के माध्यम से गत दिनों खेतोलाई निवासी बीएसएफ 110 बटालियन में कार्यरत राजकुमार की सडक़ दुर्घटना में मौत के बाद आर्थिक सहायता देने का सोशल मीडिया पर संदेश दिया गया। जिस पर जवानों ने डेढ लाख रुपए एकत्रित किए। इस राशि की जवान राजकुमार की पुत्री के नाम एफडी बनाकर सुपुर्द की गई।

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned