JAISALMER NEWS- जानिए होली के बाद क्यों रखती है बहने सूर्य को प्रसन्न करने के लिए यह व्रत

By: jitendra changani

Updated: 05 Mar 2018, 12:44 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/5

भाई की सलामति के लिए की सूर्य भगवान की आराधना

भाई की सलामति के लिए की सूर्य भगवान की आराधना
जैसलमेर . जैसलमेर में होली पर्व के बाद पहले रविवार को अदीत रोटा पर्व के रूप में मनाया गया। महिलाओं ने अदीत रोटे के व्रत रखे और सूर्यदेव की आराधना कर भाई की सलामति व पीहर कुल की वृद्धि की कामना की। उल्लासमय माहौल के कारण रविवार का दिन रोज की तुलना में अलग ही नजर आया। शहर के विभिन्न मोहल्लों और कॉलोनियों में इस पर्व के दौरान काफी उत्साह देखने को मिला। ईष्ट के प्रति अटूट आस्था और मन्नत पूर्ण होने की कामना की। इस दिन ईष्ट की आराधना की खुशी के साथ ही वातावरण में धार्मिक भावना भी झलक रही थी। महिलाओं ने इस धार्मिक पर्व को परम्परागत रीति-रिवाज के साथ मनाया। इस दिन बेटी व बहन पक्ष के सदस्यों को घर बुला भोजन करवाया गया। इस दौरान चक्की से पीसे गए आटे का बड़ा रोट बनाकर उसे घी में डालकर व सेक कर सूर्य नारायण की आराधना की गई। महिलाओं ने नमक का प्रयोग नहीं किया। अदीत रोटा रखने वाली महिलाओं के अनुसार यह पर्व महिलाओं के लिए अन्य पर्वांे से भिन्न है। अन्य पर्व या त्योहार महिलाएं अपने परिजन के साथ घर में ही मनाती है, जबकि यह पर्व वह घर से बाहर अपनी सखियों के साथ मनाती है। इस दिन सूर्य देवता की पूजा-अर्चना कर बहिनें भाई की सलामति व सुख समृद्धि बनाए रखने की प्रार्थना करती है।

 

Holi festival
Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned