राजस्थान के सरहदी इलाके में सेना पर तारबंदी तोड़ने का आरोप...!

राजस्थान के सरहदी इलाके में सेना पर तारबंदी तोड़ने का आरोप...!

Nidhi Mishra | Publish: Sep, 16 2018 12:41:29 PM (IST) Jaisalmer, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

पोकरण/ जैसलमेर। पोकरण क्षेत्र के भादरिया गांव के पास स्थित जगदंबा सेवा समिति की भूमि और पोकरण फील्ड फायरिंग रेंज की भूमि को लेकर चल रहा विवाद फिर गहराने लगा है। समिति के पदाधिकारियों ने सेना पर समिति की तारबंदी और पट्टियां तोड़ने का आरोप लगाया है। गौरतलब है कि समिति और सेना के बीच भूमि को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा है जिसको लेकर पुलिस में भी मामला दर्ज करवाए गए हैं। बीती रात पटिया तोड़ने के मामले की जानकारी मिलने पर लाठी पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की।

 

 

 

आपको बता दें कि गत मई माह में श्रीभादरिया गोशाला जगदम्बा सेवा समिति व रक्षा विभाग के सैन्य अधिकारियों के बीच चल रहा भूमि विवाद पुलिस तक पहुंच गया था। गोशाला व पोकरण फिल्ड फायरिंग रेंज की भूमि को लेकर जगदम्बा सेवा समिति की ओर से लाठी पुलिस थाने में परिवाद पेश कर कार्रवाई की मांग की गई। पुलिस के अनुसार जगदम्बा सेवा समिति की ओर से संचालित भादरिया गोशाला के प्रभारी पेंपसिंह ने परिवाद में बताया कि भादरिया मंदिर के पास स्थिति भूमि भादरिया मंदिर की निजी संपत्ति ओरण की जमीन स्थित है। यहां पास ही पोकरण फील्ड फायरिंग रेंज की भूमि होने के कारण आए दिन सेना के अधिकारियों व जवानों की ओर से ओरण की तारबंदी, पट्टियां तोड़ने की कार्रवाई की जा रही है।

 


उन्होंने बताया कि एक रात दो बजे सेना के आठ टैंकों के साथ एक जिप्सी में बैठकर सैन्य अधिकारी संजय खरोला आए तथा टैंकों से ओरण की तारबंदी तोड़ दी। टैंकों की चपेट में आने से दो बछड़ों की मौत भी हो गई थी तथा तीन अन्य बछड़े घायल हो गए थे। समिति की ओर से थाने में पेश किए परिवाद पर मुख्य आरक्षक कालूसिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे तथा मौका मुआयना किया। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned