समिति की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा

समिति की बैठक में कई मुद्दों पर चर्चा

By: Deepak Vyas

Published: 06 Oct 2021, 08:11 PM IST

पोकरण. कृषि विज्ञान केन्द्र में वैज्ञानिक सलाहकार समिति की 9वीं बैठक स्वामी केशवानंद राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय बीकानेर के प्रसार शिक्षा निदेशालय के निदेशक डॉ.सुबाष चौधरी की अध्यक्षता में मंगलवार को आयोजित की गई। उन्होंने कृषि वैज्ञानिकों को क्षेत्र की जलवायु अनुरूप फसलों की किस्मों का चयन करने की आवश्यकता बताई। अटारी जोधपुर के निदेशक डॉ.एसके सिंह ने वार्षिक प्रतिवेदन पर अपने सुझाव प्रस्तुत करते हुए जिले की भौगोलिक आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर खेती की नवीनतम तकनीकियों को अपनाने पर जोर दिया। उन्होंने किसानों को लाभार्थी नहीं बनाकर सहभागी बनाने की बात कही। बैठक में आत्मा के उपनिदेशक बीएल डाबला, नाबार्ड के डीडीएम डॉ.दिनेश प्रजापत, पुखराज, मानाराम सहित किसान उपस्थित रहे। केन्द्र के कृष्णगोपाल व्यास ने केन्द्र के वर्ष 2021 का प्रगति प्रतिवेदन एवं भावी कार्य योजना वर्ष 2022 को प्रस्तुति के माध्यम से केन्द्र से संचालित समस्त गतिविधियों को प्रस्तुत किया। बैठक के उपरांत निदेशक प्रसार शिक्षा निदेशालय ने बताया कि केन्द्र के कृषि वैज्ञानिकों को किसानों के हित के लिए काम करना चाहिए, ताकि पोकरण क्षेत्र के किसान वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के लिए तैयार हो पाएं। खजूर फार्म के प्रभारी प्रताप कुशवाह ने क्षेत्र के अनुकूल बेर, अनार, खजूर, केंद्र पर नर्सरी तैयार करने व अन्य क्षेत्रों में किसानों को आकर्षित करने एवं आजीविका का साधन बनाने की बात कही। वरिष्ठ वैज्ञानिक दीपक चतुर्वेदी ने बताया की केंद्र के माध्यम से नवीनतम कृषि अनुसंधान का प्रसार प्रचार करने को कहा, ताकि किसान उससे प्रभावित होकर अपने खेतों में समन्वित कृषि प्रणाली अपनाकर अपनी आय को बढ़ा सके। वैज्ञानिक किसानों की कृषि तकनीक से संबंधित समस्याओं का समाधान करेंगे, तभी केन्द्र का उद्देश्य पूरा होगा। डॉ.दिनेश प्रजापत ने केंद्र की गतिविधियों में विभाग के साथ सामंजस्य स्थापित कर प्रशिक्षण शिविर आयोजित करवाने की आवश्यकता बताई। बैठक में कृषि विज्ञान केंद्र के कृषि प्रसार वैज्ञानिक सुनीलकुमार शर्मा, गृह वैज्ञानिक डॉ.चारू शर्मा, पशुपालन वैज्ञानिक डॉ.रामनिवास और मृदा वैज्ञानिक डॉ.बबलू शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए। साथ ही प्रगतिशील किसान छगनलाल, जेठीदेवी एवं अधिकारियों ने अपने सुझाव दिए।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned