ईरान से जैसलमेर लाए भारतीयों के सैम्पल लेगी मेडिकल कॉलेज की टीम

-जैसलमेर के मिलिट्री स्टेशन में क्वारेंटाइन की अवधि हो रही पूरी

By: Deepak Vyas

Updated: 28 Mar 2020, 07:16 PM IST

जैसलमेर. कोरोना से प्रभावित ईरान में फंसे जिन भारतीयों को निकाल कर जैसलमेर के मिलिट्री स्टेशन के वेलनेस सेंटर में दो सप्ताह के क्वारेंटाइन में रखा गया है, उनकी क्वारेंटाइन अवधि पूरी होने पर अब जोधपुर एम्स की टीम सबकी कोविड-१९ वायरस की जांच के लिए सेम्पल लेगी। इस संबंध में राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने सेना अधिकारियों को सूचित कर दिया है। गौरतलब है कि ईरान से लाए गए भारतीयों की क्वारेंटाइन अवधि पूरी होने पर सेना की ओर से उनकी सेम्पलिंग के लिए जिला प्रशासन को लिखा गया था। एसीएस सिंह ने बताया कि सैन्य अधिकारियों को सेम्पल संग्रहण में सहायता के लिए एसएन मेडिकल कॉलेज जोधपुर से एक आरआरटी टीम और सीएमएचओ जैसलमेर की ओर से एक आरआरटी टीम लगाई जा रही है। ईरान से लाए गए भारतीयों के सभी सेम्पलों की जांच एम्स जोधपुर में की जाएगी।
तीन खेप में लाए गए हैं भारतीय
गौरतलब है कि ईरान में फंसे भारतीयों को केंद्र सरकार ने एयर इंडिया के विशेष विमानों के जरिए तेहरान से दिल्ली होते हुए जैसलमेर के सिविल एयरपोर्ट तक पहुंचाया। जहां से सभी को मिलिट्री स्टेशन में स्थापित वेलनेस सेंटर ले जाकर रखा गया है। ये सभी भारतीय तीन खेपों में १५, १६ और १८ मार्च को पांच विशेष विमानों से जैसलमेर पहुंचाए गए।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned