10.50 करोड़ से होगा सड़कों का निर्माण,वित्तीय स्वीकृति हुई जारी

पंचायत समिति सांकड़ा क्षेत्र में विकास कार्यों से लोगों का लाभ मिल सकेगा। विकास कार्यों को लेकर सरकार की ओर से वित्तीय स्वीकृति भी जारी कर दी गई है। पंचायत समिति सांकड़ा कार्यालय में बुधवार को समिति के प्रधान वहीदुल्ला मेहर व कांग्रेस नेता पूर्व जिला प्रमुख अब्दुला फकीर ने विकास कार्यों को लेकर विकास अधिकारी नारायण सुथार के साथ बैठक की तथा ग्रामीणों को कार्यों को लेकर पूरी जानकारी दी।

By: Deepak Vyas

Updated: 27 Nov 2019, 07:51 PM IST

जैसलमेर/पोकरण. पंचायत समिति सांकड़ा क्षेत्र में विकास कार्यों से लोगों का लाभ मिल सकेगा। विकास कार्यों को लेकर सरकार की ओर से वित्तीय स्वीकृति भी जारी कर दी गई है। पंचायत समिति सांकड़ा कार्यालय में बुधवार को समिति के प्रधान वहीदुल्ला मेहर व कांग्रेस नेता पूर्व जिला प्रमुख अब्दुला फकीर ने विकास कार्यों को लेकर विकास अधिकारी नारायण सुथार के साथ बैठक की तथा ग्रामीणों को कार्यों को लेकर पूरी जानकारी दी। पूर्व जिला प्रमुख अब्दुला फकीर ने बताया कि 10.50 करोड़ की लागत से सांकड़ा समिति क्षेत्र में सड़कों का निर्माण करवाया जाएगा। इसके अलावा समिति मद से 400 हेण्डपंप खुदवाए जाएंगे, ताकि पेयजल किल्लत से राहत मिल सके।
इन गांवों में बनेगी सड़कें
पूूर्व जिला प्रमुख फकीर ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ एवं जन अभियोग निराकरण विभाग मंत्री शाले मोहम्मद के प्रयासों से सरकार की ओर से 500 से अधिक आबादी के गांवों, जहां डामर सड़कों का अभाव है, उनके लिए राशि स्वीकृत की गई है और सड़कों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 10.50 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है। उन्होंने बताया कि राशि से ग्राम पंचायत माधोपुरा के फतेहनगर, झाबरा के खूमसिंहनगर, राजमथाई के मेहरानगढ़, जालोड़ा पोकरणा के नारखानसर, मोडरडी के किशनपुरा व सुभाषनगर गांव में नई सड़कों का निर्माण किया जाएगा। रेतीले धोरों में सड़कों के निर्माण से ग्रामीणों को आवागमन में सुविधा मिलेगी।
पेयजल किल्लत से मिलेगी राहत
पंचायत समिति सांकड़ा के प्रधान वहीदुल्ला मेहर ने बताया कि समिति की ओर से क्षेत्र में 400 हेण्डपंप खुदवाए जाएंगे। उन्होंने आगामी भीषण गर्मी के मौसम को देखते हुए दूूर दराज गांवों व ढाणियों, जहां पाइपलाइन नहीं पहुंची है, वहां हेण्डपंप खुदवाए जाएंगे, ताकि भीषण गर्मी के मौसम में पेयजल संकट की स्थिति उत्पन्न नहीं हो और ग्रामीणों को लाभ मिल सके।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned