scriptMercury got the atmosphere pure, feeding the new morning, then the lig | बुध को मिला माहौल शुद्ध, खिला नया सवेरा तो फैला स्वास्थ्य का प्रकाश | Patrika News

बुध को मिला माहौल शुद्ध, खिला नया सवेरा तो फैला स्वास्थ्य का प्रकाश

locationजैसलमेरPublished: Sep 28, 2022 08:33:21 pm

Submitted by:

Deepak Vyas

- राजस्थान पत्रिका के बाड़मेर संस्करण के स्थापना दिवस पर हमराह कार्यक्रम का आयोजन
-सभी आयुवर्ग के लोगों ने उत्साह के साथ की सहभागिता

बुध को मिला माहौल शुद्ध, खिला नया सवेरा तो फैला स्वास्थ्य का प्रकाश
बुध को मिला माहौल शुद्ध, खिला नया सवेरा तो फैला स्वास्थ्य का प्रकाश
जैसलमेर. यहां उत्साह का माहौल था तो उल्लास के रंग भी दिखे, बेहतर स्वास्थ्य को लेकर ललक दिखी तो अनुशासन का पालन करने कटिबद्धता। भोर होने के साथ ही स्वर्णनगरी के बाशिंदों ने मंगलसिंह पार्क मार्ग की ओर कदम बढ़ाए। इसके बाद उजास से परिपूर्ण जो माहौल तैयार हुआ, उसमें हर कोई सहभागी बना। मौका था राजस्थान पत्रिका के बाड़मेर संस्करण के 12वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में जिले भर में आयोजित किए जा रहे कार्यक्रमों की शृंगला में हमराह कार्यक्रम का। इस मौके पर विभिन्न आयुवर्ग के लोगों ने उत्साह के साथ भागीदारी निभाते हुए अपनी सेहत को भी संवारा। किसी ने हरी दूब में नंगे पांव घूमने का आनंद उठाया तो कोई शारीरिक व्यायाम व योगाभ्यास करते हुए खुश नजर आया। बच्चों ने भी व्यायाम में हाथ आजमाए तथा उनमे ंसे कुछ जने फुटबॉल लेकर आए और थोड़ी देर तक उससे खेलते हुए मोबाइल की वर्चुअल दुनिया से बाहर निकलकर वास्तविक मनोरंजन से रूबरू हुए। सभी ने पत्रिका की इस पहल के लिए धन्यवाद भी दिया और कहा कि वे शारीरिक तंदुरुस्ती के साथ मानसिक सुदृढ़ता के उपायों को जीवन में स्थायी स्थान देने के लिए कटिबद्ध हैं।
सेहत की सुबह, योग की पाठशाला और सैर-सपाटा
हमराह कार्यक्रम के तहत मंगलसिंह पार्क पहुंचे लोगों ने सबसे पहले करीब तीन सौ मीटर के ट्रेक पर पैदल चलने को तरजीह दी। उन्होंने अपने साथ आए लोगों के साथ पहले तेज चाल और फिर मंद-मंद गति से करीब आधे-पौन घंटे तक सैर का लुत्फ उठाया। इस दौरान सुबह की पुरसुकून शीतल बयार ने उन्हें आंतरिक आनंद से भर दिया। उनमें महिलाएं और युवावर्ग भी शामिल था। दिनभर घर के कामकाज में खटने वाली महिलाओं में सैर करने का उत्साह और भी अधिक नजर आया।
पहला सुख निरोगी काया
पार्क की हरी दूब में बैठ कर अनेक जनों ने मांसपेशियों की मजबूती के लिए कई व्यायाम किए। उन्होंने खड़े होकर अथवा बैठ कर कमर, हाथ-पांव से जुड़े कई स्ट्रेचिंग व्यायाम किए। इनमें वृद्धजनों से लेकर युवा भी शामिल थे।
बच्चों ने उठाया खेलों का लुत्फ
नन्हें मुन्ने बच्चे ओपन जिम्नेजियम में कई बच्चे कसरत करने पहुंच गए। उन्होंने वहां विभिन्न मैन्युअल मशीनों से व्यायाम किया। उनके साथ आए अभिभावकों ने इस कार्य में उनकी पूरी मदद की। कपालभांति, प्राणायाम, अनुलोम-विलोम जैसी योग क्रियाएं सम्पादित करने वालों में महिलाएं और पुरुष दोनों शामिल रहे।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

दिल्ली में श्रद्धा मर्डर जैसा एक और केस, शव के टुकड़े कर फ्रिज में रखा, मां-बेटा गिरफ्तारगुजरात चुनाव में 'आप' को झटका, वसंत खेतानी भाजपा में शामिल केजरीवाल निराशादिल्ली के स्कूल में बम की सूचना से मचा हड़कंप, डिस्पोजल स्क्वॉड मौके परगुजरात चुनाव: भाजपा के पूर्व मंत्री जय नारायण व्यास बेटे के साथ कांग्रेस में शामिलऋतुराज गायकवाड़ ने एक ओवर में 7 छक्के जड़कर बनाया विश्व रिकॉर्ड, युवराज को भी छोड़ा पीछेFIFA 2022 : मोरक्को से हारने पर बेल्जियम में दंगा, पथराव के दौरान दागे आंसू गैस के गोले, कई गिरफ्तारएनालिसिस: मुुलायम की सीट बचाने में कहीं सपा के हाथ से निकल न जाए आजम का गढ़रूबी आ‌सिफ खान बोलीं- भगवान श्रीराम ही हमारे पैंगबर थे, सबसे श्रेष्ठ है सनातन धर्म
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.