ऑक्सीजन के प्रबंधन को बेहतर बनाने की जरूरत

-जिला टास्क फोर्स की बैठक में बेहतर उपचार व्यवस्था पर मंथन

By: Deepak Vyas

Published: 02 May 2021, 09:00 PM IST

जैसलमेर. जिला कलक्टर आशीष मोदी ने जिले में कोविड.19 की दूसरी लहर में बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या को देखते हुए चिकित्साधिकारियों को नसीहत दी है कि वे उपयुक्त ऑक्सीजन की आवश्यकता की प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन उपयोग का बेहतर प्रबंध करें। उन्होंने कहा कि चिकित्साधिकारी इसमें अहम भूमिका निभाएं और भर्ती मरीजों को भी यह बताएं कि उन्हें जरूरत के अनुसार ही ऑक्सीजन दिया जाएगा। इसके साथ ही जिन भर्ती मरीजों का ऑक्सीजन लेवल 94 से अधिक हैं, उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज करने की भी सलाह दी।
जिला कलक्टर मोदी ने शनिवार को जिला कलक्ट्री सभाकक्ष में आयोजित कोविड जिला टास्क फोर्स की बैठक में यह बात कही। बैठक में जिला कोविड प्रभारी एवं सचिव यूआईटी अनुराग भार्गव, अतिरिक्त जिला कलक्टर हरिसिंह मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार शर्मा, उपखण्ड अधिकारी रमेश सिरवीं, अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. अर्चना व्यास, जिला रसद अधिकारी जब्बरसिंह चारण, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कमलेश चौधरी, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. जेआर पंवार के साथ ही जिला अस्पताल में कोविड प्रबंधन के लिए लगाए गए प्रभारी अधिकारी एवं सह प्रभारी अधिकारी उपस्थित थे।
उचित हो ऑक्सीजन का उपयोग
जिला कलक्टर ने बैठक के दौरान कहा कि हमारे लिए ऑक्सीजन के प्रबंधन को इस स्थिति में बेहतर करना जरूरी हैं क्योकि आने वाले समय में ऑक्सीजन की कमी रह सकती हैं। उन्होंने प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को कहा कि वे कोविड डेडीकेटेड वार्ड में भर्ती मरीजों के उपचार के लिए लगाए गए चिकित्सा अधिकारियों एवं नर्सिंग स्टाफ की बैठक लेकर उन्हें बताए कि वे जरूरत के अनुसार ही ऑक्सीजन देवें, वहीं ऑक्सीजन का दुरूपयोग किसी भी सूरत में न हो, इस कदम को कठोरता के साथ उठाएं।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned