पर्यटकों से गुलजार परमाणु नगरी

- देशी विदेशी पर्यटकों की रेलमपेल से होटल व्यवसाइयों में उत्साह

By: Deepak Vyas

Published: 17 Nov 2020, 07:33 PM IST


पोकरण. परमाणु नगरी के बाजार व पर्यटक स्थल गत दो दिनों से सैलानियों की रेलमपेल से गुलजार है। कस्बे में देशी विदेशी पर्यटकों की आवक के चलते भीड़ व चहल पहल बनी हुई है। दीपावली के दूसरे दिन से कस्बे में विशेष रूप से गुजरात व पश्चिमी बंगाल से देशी पर्यटकों की आवक बढ़ी है। इससे कस्बे में सैलानियों की चहल पहल बढ़ गई है। बाबा रामदेव के दर्शन करने के बाद सैलानी पोकरण पहुंच कर यहां के एतिहासिक स्थलों का भ्रमण कर यहां की लोक संस्कृति व एतिहासिक फोर्ट की बनावट को देखकर अभिभूत हो रहे है। सैलानी स्थानीय ऐतिहासिक फोर्ट के साथ अन्य पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर यहां के दृश्य कैमरों में कैद करते है।
पर्यटक स्थलों पर बढ़ी चहल-पहल
गौरतलब है कि इन दिनों प्रतिदिन सैंकड़ों गुजराती व बंगाली देशी पर्यटक रामदेवरा आ रहे है तथा प्रतिदिन बड़ी संख्या में पर्यटक स्वर्णनगरी की तरफ भी जा रहे है। इनमें से अधिकांश पर्यटक पोकरण में भी रुककर यहां के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण कर रहे है। जिससे कस्बे के मुख्य मार्गों व दर्शनीय स्थलों पर चहल पहल बढ़ गई है। पर्यटकों की सर्वाधिक भीड़ पोकरण फोर्ट में देखने को मिल रही है। इसके अलावा यहां आने वाले पर्यटक लोकदेवता बाबा रामदेव के गुरु बालीनाथ महाराज के आश्रम के दर्शनों के साथ सालमसागर, रामदेवसर तालाब का भी भ्रमण कर रहे है।
होटल व्यवसाय में तेजी
सैलानियों की आवक बढऩे से पर्यटन व्यवसाय भी पनपने लगा है। खासकर यहां की होटलों व रेस्टोरेन्ट्स की ग्राहकी बढ़ गई है। राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित होटलों व ढाबों पर भी सैलानी देखे जा रहे है। यहां दिन रात वाहनों का जमावड़ा लगा रहता है। पर्यटकों के आवागमन से कस्बे में अच्छी ग्राहकी होने से दुकानदारों व होटल मालिकों के चेहरों पर भी खुशी की लहर है।
लॉकडाउन के बाद आया सीजन
गत जनवरी माह में देश में कोरोना संक्रमण की शुरुआत हो गई थी तथा मार्च माह में देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया। जिससे देशभर के व्यवसाइयों की आर्थिक हालत ठीक नहीं थी। विशेष रूप से पर्यटन नगरी के नाम से मशहूर जैसलमेर में पर्यटकों की आवक नहीं के बराबर हो जाने के कारण पर्यटन व्यवसाय बंद ही पड़ा था। कोरोना महामारी के बावजूद दीपावली के त्यौहार के बाद गुजरात व पश्चिमी बंगाल से पर्यटकों की बम्पर आवक हो रही है। जिससे व्यवसाइयोंं के चेहरे खिले नजर आ रहे है तथा उनका रोजगार भी बढ़ गया है। लॉकडाउन के बाद पर्यटकों की सीजन आने से चेहरों पर रोनक नजर आ रही है।
फैक्ट फाइल:-
- 5000 से अधिक देशी पर्यटक प्रतिदिन पहुंच रहे है परमाणु नगरी
- 4 लाख से अधिक का हो रहा है प्रतिदिन कारोबार
- 300 से अधिक आते है प्रतिदिन पर्यटकों के वाहन
- 25 लाख से अधिक होगा 5 दिन में कारोबार
- 28 से अधिक होटलें है पोकरण के राष्ट्रीय राजमार्गों पर

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned