पंचायतीराज कर्मचारियों को दो माह से नहीं मिल रहा वेतन

जैसलमेर. जिले में पंचायतीराज की सबसे जमीनी स्तर की कड़ी ग्राम विकास अधिकारी से लेकर इस महकमे के अन्य कार्मिकों को कोरोना संक्रमण के मौजूदा दौर में पिछले दो माह से वेतन नहीं मिलने की जानकारी सामने आई है।

By: Deepak Vyas

Updated: 18 Apr 2020, 08:39 PM IST

जैसलमेर. जिले में पंचायतीराज की सबसे जमीनी स्तर की कड़ी ग्राम विकास अधिकारी से लेकर इस महकमे के अन्य कार्मिकों को कोरोना संक्रमण के मौजूदा दौर में पिछले दो माह से वेतन नहीं मिलने की जानकारी सामने आई है। जिले की सभी पंचायत समितियों के कर्मचारियों को गत फरवरी और मार्च माह का वेतन नहीं मिल सका है, जबकि इस समय अप्रेल भी आधे से अधिक व्यतीत हो चुका है। राज्य सरकार ने कोरोना के संकट काल में किसी निजी क्षेत्र के कार्मिक का भी वेतन नहीं रोकने के कड़े निर्देश जारी किए थे, जबकि खुद सरकार के ही अंग पंचायतीराज के कर्मचारियों को दो महीनों की तनख्वाह नहीं मिल सकी है। कार्मिकों में इसे लेकर आक्रोश की स्थितियां बन रही हैं। उनका कहना है कि प्रशासनिक स्तर पर ढिलाई बरते जाने से उन्हें समय पर वेतन नहीं मिल पा रहा है।
डेढ़ सौ से ज्यादा कार्मिक प्रभावित
जिले की पंचायत समितियों में ग्राम विकास अधिकारी, पंचायत प्रसार अधिकारी, लिपिक और चतुर्थ श्रेणी आदि को मिलाकर डेढ़ सौ से ज्यादा कर्मचारी वेतन नहीं मिलने से व्यथित चल रहे हैं। उनका कहना है कि कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच वेतन नहीं मिलने से उन्हें कई आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। बताया जाता है कि जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी की ओर से कार्मिकों के वेतन बिलों पर हस्ताक्षर नहीं किए से यह स्थितियां बनी हैं। कर्मचारियों में इसे लेकर हताशा व्याप्त हो रही है। उनका कहना है कि वर्तमान में ग्राम विकास अधिकारी जमीनी स्तर पर सबसे ज्यादा काम कर रहे हैं। इसके बावजूद प्रतिमाह मिलने वाले वेतन में देरी से उनका मनोबल प्रभावित हो रहा है। कार्मिकों ने बताया कि सरकारी आदेशों के बावजूद समय पर वेतन नहीं मिलने की उनकी व्यथा को कोई सुनने वाला नहीं है।
कागजातों में होगी कमी
पंचायतीराज में अभी प्रशासक काल चल रहा है। विकास अधिकारियों द्वारा पेश किए जाने वाले कागजातों में कोई कमी होगी। पंचायत समितियों से कई बार बिना टिप्पणी के बिल पेश कर दिए जाते हैं। अन्यथा जिला परिषद में कोई फाइल लंबित नहीं है।
- ओमप्रकाश, सीइओ, जिला परिषद, जैसलमेर

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned