जैसलमेर में 'पेपरलेस मीटिंग ' की शुरूआत

-जिला कलक्टर आशीष मोदी की नई पहल

By: Deepak Vyas

Updated: 16 Dec 2020, 01:15 PM IST

जैसलमेर. जिला कलक्टर आशीष मोदी की पहल पर जिले में पेपरलैस मीटिंग्स को लेकर नवाचारों की शुरूआत की गई है। इसके तहत जिला प्रशासन की ओर से आयोजित होने वाली मंडे मीटिंग सहित खास बैठकों में विभिन्न विभागों की ओर से पॉवर पॉइन्ट प्रजेन्टेशन के माध्यम से विभागीय गतिविधियों, प्रगति और उपलब्धियों आदि से संबंधित बिन्दुओं का प्रस्तुतीकरण करते हुए चर्चा-समीक्षा की जाएगी। इसकी शुरूआत सोमवार शाम हुई साप्ताहिक बैठक से हुई। इसमें विभिन्न विभागों के अधिकारियों की ओर से पीपीटी के माध्यम से जानकारी दी गई और इनके आधार पर ही जिला कलक्टर मोदी ने सभी विभागों की एक.एक कर समीक्षा की और आवश्यक दिशा.निर्देश दिए।
बैठक में नगर विकास न्यास के सचिव अनुराग भार्गव, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, सहायक निदेशक लोक सेवाएं, अशोक कुमार, जिला रसद अधिकारी जबरसिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।
समन्वय और त्वरित कार्य सम्पादन पर जोर
जिला कलक्टर आशीष मोदी अधिकारियों ने अधिकारियों से कहा कि विभागीय दायित्वों के बेहतर निर्वहन के लिए कार्यशैली को बहुआयामी बनाते हुए त्वरित कार्य संपादन को गति दें तथा पारस्परिक समन्वय के साथ काम करते हुए जिले के व्यापक हित में अपने कार्यकाल को यादगार बनाएं। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन के त्वरित सूचना सम्पर्क की प्रणाली में प्रस्तुत की जाने वाली विषय वस्तु एवं समाधान पर तत्काल संज्ञान लेकर निर्णायक कार्यवाही करें तथा अपने से संबंधित हर बिन्दु पर अपनी पहल व अनुपालनात्मक कार्यवाही का परिचय जरूर दें ताकि कई समस्याओं और जिज्ञासाओं का समाधान जल्द से जल्द संभव हो सके।
लम्बित प्रकरणों का निस्तारण करें
जिला कलक्टर ने विभिन्न विभागों की ढिलाई तथा लक्ष्यपूर्ति में शिथिलता पर नाराजगी जताते हुए कहा कि जल्द से जल्द समाधान की कार्यवाही करें अन्यथा जिला प्रशासन द्वारा नोटिस एवं चार्ज शीट जारी की जाएगी। उन्होंने कई विभागों के लम्बित कार्यों एवं लक्ष्य पूर्ति के लिए मोहलत दी और कहा कि नियत अवधि तक कार्य पूर्णता नहीं होने पर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।
आधार सीडिंग में लाएं तेजी
जिला कलक्टर ने जिले में वंचित रह गए लोगों के लिए आधार कार्ड जारी करने और सीडिंग का कार्य अभियान के तौर पर चलाने के निर्देश दिए और कहा कि इसके लिए ठोस कार्ययोजना बनाकर समयबद्ध उपलब्धि हासिल की जाए। उन्होंने जवाहिर चिकित्सालय में ऑर्थोपेडिग वार्ड से संबंधित मरीजों को बाहर से शल्य चिकित्सा से संबंधित सामग्री मंगवाने की शिकायतों को तत्काल दूर करने के निर्देश प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को दिए और कहा कि आयन्दा यह स्थिति सामने नहीं आनी चाहिए।जिला कलक्टर ने सतर्कता में दर्ज मामलों और समस्याओं व शिकायतों सेे संबंधित लम्बित प्रकरणों के निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश दिए।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned