झोलाछाप डॉक्टर के इंजेक्शन ने छीनी युवक की जिंदगी, पुलिस की दबिश के बाद दूसरे नीम हकीम अंडरग्राउंड

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: Nidhi Mishra Nidhi Mishra

Published: 19 Jan 2019, 11:36 AM IST

 

जैसलमेर/ फतेहगढ़। उपखंड मुख्यालय में गत दिनों एक नीमहकीम झोलाछाप चिकित्सक द्वारा इंजेक्शन लगाने से एक युवक की मौत के बाद शुक्रवार को चिकित्सा विभाग व पुलिस प्रशासन ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए एक निजी क्लिनिक पर दबिश दी। जानकारी के अनुसार फतेहगढ़ उपखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत लखा में गत कई वर्षों से संचालित झोला छाप चिकित्सक के विरुद्ध फतेहगढ उपखंड अधिकारी सुमन सोनल के नेतृत्व में चिकित्सा विभाग जैसलमेर व झिनझिनयाली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सालों से लखा गांव में सुरजीत मंडल के निजी क्लिनिक को सीज किया। चिकित्सा विभाग ने कार्रवाई करके दवाईयां सहित अन्य उपकरण जब्त कर लिए। चिकित्सा विभाग व पुलिस की भनक लगते ही सुरजीत मंडल फरार हो गया। लखा गांव में नीमहकीम पर चिकित्सा विभाग व पुलिस कार्रवाई की सूचना मिलते ही फतेहगढ़ कस्बे में संचालित अवैध क्लीनिकों के नीम हकीमो में हडक़म्प मच गया और वह अपने क्लीनिक बन्द कर भूमिगत हो गए। नीमहकीम के खिलाफ कार्रवाई के दौरान उपखंड अधिकारी सुमन सोनल, ड्रग इंस्पेक्टर डॉ. राजेश मीणा, ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ. बीआर गर्ग, जिला आयुर्वेद अधिकारी गजेन्द्रप्रसाद शर्मा, झिनझिनयाली थानाधिकारी अरविंद चारण, झिनझिनयाली पीएचसी प्रभारी डॉ. ओम घासिल आदि उपस्थित थे।

Nidhi Mishra Nidhi Mishra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned