JAISALMER पत्रिका अभियान -सूखे हलक मांगे नीर शहर व गांवों में पेयजल संकट को लेकर सडक़ पर उतरे लोग

By: jitendra changani

Published: 11 May 2018, 11:36 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/3

ज्ञापन में बयां की समस्या विकास व्यास के अनुसार ज्ञापन में बताया गया कि समूचे जिले में गर्मी की दस्तक के साथ ही पेयजल संकट गहरा चुका है। वहीं निरंतर पानी को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में हाहाकार मचा हुआ है। ग्रामीणों को महंगे दामों पर पानी के टैंकर मंगवाने पडे रहे हैं। वहीं शहरी क्षेत्र के वार्डों में पेयजल किल्लत से लोगों के हाल-बेहाल है। पर्यटन नगरी होने के बावजूद स्वर्णनगरी की सफाई व्यवस्था का हाल-बेहाल है। पर्यटननगरी में सीवरेज लाईन पूर्ण रूप से फेल हो चुकी है। सोनार दुर्ग सहित 100 मीटर की परिधि में बसे निवासियों को नगर परिषद की ओर से पानी व बिजली की एनओसी नहीं मिल रही है।

अधिकांश क्षेत्रों में टैंकरों की जलापूर्ति के सहारे लोग
जैसलमेर. जैसलमेर जिला मुख्यालय के साथ ग्रामीण अंचलों में व्याप्त पेयजल संकट के चलते अब लोगों का धीरज जवाब देने लगा है। राजस्थान पत्रिका की ओर से जिलावासियों की आवाज को पुरजोर ढंग से उठाने के लिए चलाए जा रहे अभियान ‘सूखे हलक मांगे नीर’के बाद जैसलमेर समिति के कांग्रेसी प्रधान अमरदीन फकीर ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट के सामने धरना-प्रदर्शन किया, जिसमें शहरी लोगों के साथ ग्रामीण भी बड़ी संख्या में शामिल हुए। बाद में जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा गया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned