पॉजिटिव से नेगेटिव हुए लोग रखें सावधानी : डॉ.मोहम्मद

- ब्लैक फंगस को लेकर सावचेती बरतने की अपील

By: Deepak Vyas

Updated: 20 May 2021, 07:17 PM IST

पोकरण. चिकित्सा विभाग के ब्लॉक मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.लोंग मोहम्मद ने कहा कि पॉजिटिव से नेगेटिव हुए लोगों को सावधानी बरतने की जरुरत है। उन्होंने बताया कि नेगेटिव लोगों को ब्लैक फंगस का खतरा रहता है। बीसीएमओ डॉ.लोंग मोहम्मद ने बताया कि देशभर में गत एक वर्ष से कोरोना संक्रमण की महामारी चल रही है। इस वर्ष आई दूसरी लहर का प्रकोप अधिक रहा है। विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमित अधिक मिले। उन्होंने पोकरण क्षेत्र के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की लहर अब कम हो रही है। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की मेहनत से लोग ठीक हो रहे है तथा अब पॉजिटिविटी का आंकड़ा भी कम हो गया है। उन्होंने बताया कि संक्रमित होने के बाद चिकित्सा विभाग की ओर से मरीजों का उपचार किया जाता है। संक्रमित के ठीक होने के बाद उसे ब्लैक फंगस रोग होने की आश्ंाका रहती है, जो खतरनाक है। उन्होंने बताया कि विशेष रूप से मधुमेह (डाइबिटीज/शुगर) के रोगियों में यह रोग होने की अधिक आशंका रहती है। उन्होंने कोरोना संक्रमितों के ठीक होने के बाद भी उन्हें कई सावचेतियां बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि कोरोनाकाल के दौरान मधुमेह के रोगियों को मीठी वस्तुओं से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखनी है, ताकि उनका मधुमेह ठीक रह सके। उन्होंने बताया कि संक्रमित मरीजों को भी मीठी वस्तुओं, शक्कर, चाय, चॉकलेट आदि से दूर रहना चाहिए, ताकि मधुमेह नहीं बढ़े। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमितों को ठीक होने के बाद भी 15-20 दिनों तक घरों में रहना आवश्यक है, ताकि वे अन्य बीमारी की चपेट में नहीं आए। उन्होंने पोकरण क्षेत्र के सभी लोगों से बुखार, जुकाम होने पर अस्पताल में उपचार करवाने, कोरोना जांच में संक्रमित मिलने पर घरों में आइसोलेट रहने, अन्य व्यक्ति के संपर्क में नहीं आने, ठीक होने के बाद भी 15-20 दिनों तक घरों में ही रहने तथा सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन की पालना करने का आह्वान किया है।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned