नहीं हुआ निजी बसों का संचालन, हड़ताल पर रहे बस ऑपरेटर

नहीं हुआ निजी बसों का संचालन, हड़ताल पर रहे बस ऑपरेटर

By: Deepak Vyas

Published: 11 Jun 2021, 09:13 AM IST

जैसलमेर. जैसलमेर में गुरुवार से निजी बसों का संचालन नहीं हुआ। निजी बसों के ऑपरेटर अपनी विभिन्न मांगों को लेकर एक दिन के लिए हड़ताल पर रहे। जैसलमेर बस ऑपरेटर यूनियन के निजी बस संचालकों ने अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री व परिवहन मंत्री के नाम ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला, अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद, विधायक रुपाराम धणदै, कलेक्टर आशीष मोदी व जिला परिवहन अधिकारी टीकूराम पूनड़ को ज्ञापन दिया है। ज्ञापन में बताया कि कोरोना महामारी के दौरान जैसलमेर में निजी बसों का संचालन बंद होने से कई ड्राईवर व कंडक्टर आदि कई लोग बेरोजगार हो गए। पिछले साल भी कोरोना के कारण बस ऑपरेटर्स का व्यवसाय अधिक प्रभावित हुआ था। जिसके चलते बस ऑपरेटर्स व उनके स्टाफ के सामने रोजगार भी संकट पैदा हो गया है। ज्ञापन में विकट परिस्थितियों के कारण संकटग्रस्त बस ऑपरेटरों की ऑल इंडिया परमिट व ग्रामीण रुट परमिट बसों का एक साल का टैक्स माफ करने, बसों का इंश्योरेंस एक साल के लिए आगे बढाए जाने, बसों के लिए डीजल की दरों में राज्य सरकार का टैक्स कम करके सब्सिडी दिलाने, बस ड्राइवर्स कंडक्टर्स को हुए आर्थिक नुकसान का मुआवजा दिलाने की मांग की गई। ज्ञापन में चेतावनी दी गई कि जल्द ही मांगों को नहीं माना गया तो आगामी दिनों में कोरोना गाइड लाइन की पालना करते हुए धरना प्रदर्शन करना पड़ेगा। जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन की रहेगी। ज्ञापन देते समय जगदीश पुरोहितए कालूराम पुरोहितए रावतसिंह चौहान, अशोक तंवर, निर्मल पुरोहित, कंवराजसिंह चौहान, महेश पुरोहित, विक्रमसिंह रावलोत, प्रेम माली, विक्रमसिंह सोढ़ा, हंसराज आचार्य, निम्बदान चारण, बृजेश, उगमसिंह सोढ़ा, खीवराजसिंह चेलक, बाबूसिंह अड़बाला, अंकित, अनिल, राजकुमार, लालूसिंह सोढ़ा, नरेंद्रसिंह व गोपाल पुरोहित सहित कई बस ऑपरेटर मौजूद थे।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned