JAISALMER parika campaigh- श्वानों के आतंक से मिलेगी मुक्ति, एनजीओ संभालेगा मोर्चा

By: jitendra changani

Published: 25 Feb 2018, 10:23 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/3

-जैसलमेर शहर के ज्यादा समस्या वाले इलाकों में श्वानों की धरपकड़ शुरू

आम शहरवासियों ने पत्रिका के अभियान को सराहा
जैसलमेर. आवारा श्वानों की समस्या से हलकान जैसलमेर के बाशिंदों के साथ यहां घूमने आने वाले पर्यटकों को बहुत जल्द राहत मिलेगी।राजस्थान पत्रिका की ओर से चलाए गए अभियान ‘श्वान राज से मुक्त हो जैसाण’ के बाद हरकत में आए नगरपरिषद प्रशासन ने शनिवार से गली-मोहल्लों में आवारा श्वानों की धरपकड़ के लिए अभियान छेड़ दिया है।इसके साथ ही परिषद की ओर से भविष्य में इस समस्या का स्थायी समाधान करने के लिए जयपुर स्थित एक गैरसरकारी संगठन (एनजीओ) से करार किया गया है।यह एनजीओ श्वानों की बढ़ती संख्या पर नियंत्रण के लिए वैज्ञानिक ढंग से कार्रवाई करेगा।इससे आने वाले समय में शहर के गली-कूचों में श्वानों के आतंक पर रोक लग सकेगी।
श्वानों को पकड़ा, फौरी तौर पर राहत
नगरपरिषद प्रशासन ने पिछले दिनों के दौरान विदेशी सैलानियों को श्वानों द्वारा काट खाने की घटनाओं के मद्देनजर ठेकेदारों को उनकी धरपकड़ के लिए निर्देशित किया गया।जिसके बाद शनिवार को छड़ीदार पाड़ा, गांधी चौक, मैनपुरा व उससे लगते क्षेत्रों में श्वानों को पकडकऱ पिंजरे में डाला गया।उन्हें यहां से दूरस्थ स्थान पर ले जाकर छोड़ा जाएगा।ऐसे ही आगामी दिनों में और कुछस्थानों पर भी कार्रवाई की जा सकती है।इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए भी परेशानी का सबब बने इन श्वानों को पकड़े जाने से उन्हें फिलहाल राहत मिल गई है।
एनजीओ करेगा ऑपरेशन, स्थान चिन्हित
इस बीच नगरपरिषद प्रशासन ने स्वर्णनगरी में आवारा श्वानों की संख्या में दु्रत गति से बढ़ोतरी से निपटने के लिए इस क्षेत्र में कार्यरत एनजीओ से करार किया है।जानकारी के अनुसार एनजीओ के कार्यकर्ताशहर के विभिन्न क्षेत्रों से श्वानों को पकड़ कर ले जाएंगे और उनका ऑपरेशन कर एक तरह से बधियाकरण कर देंगे।जिससे भविष्य में श्वानों की संख्या पर अंकुश लग सकेगा।इस ऑपरेशन से श्वानों की आक्रामकता पर भी नियंत्रण स्थापित हो सकेगा।जानकारी के अनुसार नगरपरिषद ने उक्त एनजीओ को गफूर भ_ा क्षेत्रसे लगती जमीन का टुकड़ा आबंटित करने का निर्णय लिया है।जहां बाड़ा निर्माण करवाकर एनजीओ वहां श्वानों को रखेगा और ऑपरेशन के बाद उन्हें छोड़ दिया जाएगा।

समस्या का स्थायी समाधान
स्वर्णनगरी में श्वानों की समस्या विगत समय से काफी विकट हो चुकी है।आमजन के साथ यहां आने वाले देशी-विदेशी सैलानियों को भी इनसे परेशानी तथा खतरा रहता है।इसके मद्देनजर समस्या के स्थायी समाधान के लिए एक एनजीओ को उनकी धरपकड़ व ऑपरेशन करने का कार्य सौंपा गया है।जल्द ही वे काम शुरू कर देंगे।तब तक ज्यादा समस्या वाले क्षेत्रों से श्वानों को पकड़वाया जा रहा है।
-अशोक मीणा, एसआई, नगरपरिषद, जैसलमेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned