JAISALMER NEWS- राजस्थान के रामदेवरा मंदिर में हुई लाखों की चोरी का राज हुआ दफन, पुलिस ने फाइल की...

तीन वर्ष बाद भी नहीं खुला चोरी का राज -एफआर लगाकर बंद कर दी फाइल

By: jitendra changani

Published: 07 May 2018, 11:36 AM IST

रामदेवरा मंदिर के मालखाने से चोरी
रामदेवरा(जैसलमेर). लोकदेवता बाबा रामदेव के मंदिर में लाखों रुपए की चांदी व नकदी की चोरी हो जाने के तीन वर्ष बाद भी पुलिस अभी तक चोरों तक नहीं पहुंच पाई है। पुलिस की ओर से भी एफआर लगाकर मामले को बंद भी कर दिया गया है। हालांकि चोरी गया माल चोरी की घटना के डेढ माह बाद प्लास्टिक के कट्टों व कपड़े की गठरी में बंधा रुणीचा कुंआ के पास लावारिस हालत में पड़ा मिला था, लेकिन अभी तक चोरों का सुराग नहीं लगा है।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

अब तक 200 लोगों से पूछताछ

गौरतलब है कि गत तीन वर्ष पूर्व चार व पांच मई 2015 की रात्रि में मंदिर के मालखाने की रामसरोवर तालाब की पाल की तरफ स्थित खिडक़ी पर लगा जंगला तोडकऱ चोर मालखाने में घुसे तथा यहां रखे करीब एक क्विंटल 16 किलो चांदी के छत्तर, गहने व चार लाख 30 हजार रुपए नकद चुरा ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की, लेकिन चोरों व माल का कोई सुराग नहीं लगा पाई।

इस दौरान डेढ माह बाद 22 जून 2015 की रात्रि में कुछ अज्ञात लोग चोरी गए एक क्विंटल 16 किलो चांदी के गहने व चार लाख 40 हजार रुपए रुणीचा कुंआ के पास लावारिस हालत में छोडकऱ भाग गए। जिसे पुलिस ने 23 जून 2015 को सुबह बरामद किया। इस संबंध में पुलिस ने पुन: जांच शुरू की तथा डॉग स्क्वायड के सहयोग से भी जांच पड़ताल की गई। पुलिस की ओर से करीब 200 लोगों से इस संबंध में पूछताछ भी की गई, लेकिन पुलिस अब तक चोरों तक नहीं पहुंच पाई है।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

..और अब फाइल हो गई बंद
पुलिस की ओर से चोरी के पर्दाफाश को लेकर प्रयास किए गए, लेकिन चोरों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा। जिसके चलते उनकी ओर से फाइल को ही बंद कर दिया गया। गत एक वर्ष पूर्व न्यायालय में पत्रावलियां प्रस्तुत कर उस पर एफआर लगा दी गई।

सुराग लगने पर खुलेगी फाइल
मंदिर चोरी का कोई सुराग नहीं लगने पर एफआर लगाकर फाइल बंद कर दी गई है। यदि चोरों का कहीं सुराग लगता है, तो फाइल को पुन: चालू कर कार्रवाई की जाएगी।
-अमरसिंह, थानाधिकारी पुलिस थाना, रामदेवरा।

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned