JAISALMER NEWS रोडवेज के परमिट चाट रहे धूल, निजी वालों को कमाई की पूरी छूट

राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम (रोडवेज) का जैसलमेर डिपो बसों की तादाद के लिहाज से कंगाली के दौर से गुजर रहा है।

By: Manohar

Published: 24 Jul 2018, 01:39 PM IST

जैसलमेर रोडवेज के बेड़े में वर्तमान में महज 30 बसें ही संचालित हो रही हैं, जिनमें 20 रोडवेज की तथा 10 अनुबंधित हैं। निजी क्षेत्र इससे 10 गुना ज्यादों बसें चला रहा है। यात्री भार की उन्हें कोई कमी नहीं है। अनुमान लगाया जा सकता है कि यात्रियों के सामने निजी क्ष् ोत्रों की बसों से सफर करने के अलावा कोई चारा सरकार ने नहीं छोड़ा है। जानकारी के अनुसार जैसलमेर से रोडवेज की सर्वाधिक 7 बसें जोधपुर व आधा दर्जन बसें बाड़मेर के लिए संचालित हो रही हैं। इसके अलावा जोधपुर-अजमेर के लिए 2, जयपुर, नागौर-अजमेर, बीकानेर, अहमदाबाद, तनोट, आबूरोड के लिए एक-एक बस चलती है। जिले के कई ग्रामीण रुट खासकर नहरी क्षेत्र रोडवेज की बस सेवा से वंचित हैं। रोडवेज की बसें नहीं होने से सरकार की ओर से 29 श्रेणियों में किराये में छूट का लाभ संबंधित लोगों को नहीं मिलता, जिनमें असाध्य बीमारियों से ग्रस्त लोग व उनके तीमारदार शामिल है। निजी क्षेत्र कर रहा मोटी कमाई
-हकीकत यह है कि रोडवेज डिपो जैसलमेर की तरफ से अहमदाबाद, जयपुर और बीकानेर जैसे षहरों के लिए जो एक-एक 3 गुणा 2 सीटर बस चलाई भी जा रही है, वे दिन में चलती हैं। जबकि लोगों की मांग षाम के समय स्लीपर लग्जरी बसों की है।
-निजी ट्रेवल्स की ओर से जैसलमेर से अहमदाबाद और जयपुर के लिए शाम को करीब 6-6 बसें वातानुकूलित स्लीपर बसें यात्रियों से भर कर चल रही हैं।
-ऐसे ही जैसलमेर से नाथद्वारा व उदयपुर के लिए निजी क्षेत्र की बसें भर कर चल रही हैं जबकि रोडवेज की कोई बस इन दोनों शहरों के लिए नहीं है।
-इसी तरह मोहनगढ़-नाचना होते हुए बीकानेर, पोकरण-नाचना, पोकरण से देवीकोट होते हुए बाड़मेर बस सेवा की भी खासी मांग है।
निजी क्षेत्र बेलगाम
जैसलमेर डिपो से कई अहम शहरों के लिए बसें नहीं होने की वजह से निजी ट्रेवल्र्स यात्रियों से मनमाना किराया वसूल कर रहे हैं, जबकि यह अनुभव किया गया है कि जिस रुट पर सरकारी बसें चलती हैं, वहां निजी बस वाले संयमित किराया ही वसूल कर पाते हैं। जैसलमेर डिपो की कई बसों को सरकार ने कम आय का तर्क देकर अन्य डिपो को स्थानांतरित कर दिया है। जैसलमेर डिपो में बसों के रखरखाव की व्यवस्था भी महज हेल्परों के भरोसे है। यहां प्रथम ग्रेड के सभी 2 और द्वि तीय ग्रेड के 4 मैकेनिकों के पद रिक्त हैं।

फैक्ट फाइल -
-30 बसों का संचालन जैसलमेर डिपो से
-07 और 06 बसें जोधपुर व बाड़मेर के लिए
-29 श्रेणी के लोगों को रोडवेज देता है किराये में छूट

सरकार को करना है निर्णय
जैसलमेर डिपो में बसों की सं या व रुट संचालन का निर्णय सरकार को करना है।आमजन की इस संबंध में किसी भी मांग से हम सरकार को अवगत करवा देते हैं।
-कैलाशचंद मीना, मुख्य प्रबंधक, जैसलमेर डिपो

Manohar Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned