JAISALMER NEWS- राजस्थान के इस शहर के विद्यार्थी बनेंगे अब वैज्ञानिक, हुआ अटल टिंकरिंग प्रयोगशाला का शुभारंभ

By: jitendra changani

Published: 17 Apr 2018, 11:04 AM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/2

जैसलमेर के केवी, वायुसेना स्थल में अटल टिंकरिंग प्रयोगशाला का उद्घाटन करते हुए।

केंद्रीय विद्यालय वायुसेना स्थल जैसलमेर में अटल टिंकरिंग प्रयोगशाला का शुभारंभ
जैसलमेर . केन्द्रीय विद्यालय वायुसेना स्थल जैसलमेर में ‘एटीएल कम्यूनिटी डे’ पर प्राचार्य समरीन कादरी के आतिथ्य में अटल टिंकरिंग प्रयोगशाला का शुभारंभ हुआ। इस दौरान कादरी ने बताया कि अटल इनोवशन (नवाचार) मिशन के तहत नीति आयोग की ओर से पूरे देश के चुनिंदा विद्यालयों में प्रयोगशालाएं शुरू की गई हैं। उन्होंने इसके सहयोग से छात्र रविन्द्र विश्नोई जिसका प्रोजेक्ट पूरे देश के पांंच मॉडल में से चुना गया, इसके लिए उन्हे बधाई दी। विश्नोई ने अध्यापक केशव खण्डेलवाल (भौतिक विज्ञान) व रेवती लाल (जीव विज्ञान) के मार्ग दर्शन में अपना मॉडल बनाया था। प्राचार्य ने सभी विद्यार्थियों को विज्ञान के क्षेत्र में नवाचार, अनुसंधान व अपनी ज्ञान पिपासु जिज्ञासा को धरातल पर लाने की बात कही। उन्होंन बताया कि इन्हीं बाल वैज्ञानिकों के माध्यम से आने वाले समय में भारत विज्ञान व तकनीकी के क्षेत्र में विश्व शक्ति बनेगा। प्रयोगशाला के प्रभारी केशव खण्डेलवाल ने बताया कि कक्षा छठी से बारहवी तक सभी कक्षाओं व वर्गों का साप्ताहिक एक कालांश अटल टिंकरिग प्रयोगशाला के लिए समय-सारणी में निर्धारित किया गया है। विज्ञान एवं गणित के अध्यापकों के मार्गदर्शन में विद्यार्थी अपना-अपना नवाचार प्रोजेक्ट को मूर्त रूप दे सकेंगे।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned