scriptStudents saw the exhibition of weapons, know the history of the brave | विद्यार्थियों ने देखी हथियारों की प्रदर्शनी, जाना बहादुरों का इतिहास | Patrika News

विद्यार्थियों ने देखी हथियारों की प्रदर्शनी, जाना बहादुरों का इतिहास

विद्यार्थियों ने देखी हथियारों की प्रदर्शनी, जाना बहादुरों का इतिहास

जैसलमेर

Published: March 11, 2022 08:22:59 pm

जैसलमेर. सीमा सुरक्षा बल की 108 वीं वाहिनी की ओर से सीमा चौकी मुरार के नजदीक स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, कर्मावाली में आजादी का अमृत महोत्सव के तहत विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इस बार देश की हिफाजत-देश की सुरक्षा के संबंध में स्थानीय नागरिकों और सीमा सुरक्षा बल के बीच संबंधों को और विश्वासपूर्ण एवम प्रगाढ़ बनाने के उद्देश्य से स्कूल के बच्चों और सामान्य जनता के लिए हथियार प्रदर्शनी, बीएसएफ के बहादुरों की फोटो गैलरी एवं बीएसएफ की जानकारी देने वाले कई चलचित्रो को भी प्रदर्शित किया गया। उपस्थित बच्चों और जन समूह का इन कार्यक्रमों को देखने का उत्साह देखते ही बनता था।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सत्यानंद पांडेय, 108 बटालियन कमांडेंट के सरपंच गोहर खान ने मुख्य अतिथि को राजस्थानी पगड़ी पहना कर अभिनंदन किया। इस मौके पर प्रदीप त्रिपाठी, सेकंड इन कमांड एवं पीयूष उप कमांडेंट भी उपस्थित रहे। इस दौरान आयोजित निबंध एवं भाषण प्रतियोगिता में भी विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक भागीदारी की। मुख्य अतिथि पांडे ने भी पुरस्कृत किया। इस मौके पर पांडेय ने कहा कि सीमा सुरक्षा बल सदैव उनके लिए किसी भी प्रकार की मदद के लिए तत्पर है। विद्यालय प्राध्यापक कुर्बान खान ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
विद्यार्थियों ने देखी हथियारों की प्रदर्शनी, जाना बहादुरों का इतिहास
विद्यार्थियों ने देखी हथियारों की प्रदर्शनी, जाना बहादुरों का इतिहास
जागरूकता शिविर का आयोजन
जैसलमेर. शहर के आदर्श विद्या मन्दिर गांधी कॉलोनी जैसलमेर में राष्ट्रीय मुख्य स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को जागरुकता शिविर आयोजित हुआ।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कुणाल साहु ने बताया कि शिविर में डॉ. एमडी सोनी ने अवगत कराया कि सोशल मीडिया व मोबाइल फोन की लत मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है । मानसिक स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव पडऩे पर बालक का अध्ययन व मानसिक विकास प्रभावित हो जाता है। उन्होंने छात्रों को तंबाकू उत्पादों का सेवन नही करने तथा बेहतर शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य के लिए नशे से दूर रहने का संकल्प लेने की बात कही ।
डॉ. सोनी ने राष्ट्रीय मुख स्वास्थ्य कार्यक्रम व राष्ट्रीय फ्लोरोसिस नियंत्रण एवं रोकथाम कार्यक्रम के सम्बन्ध में भी जानकारी प्रदान की। उन्होंने बताया कि अधिकांश सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे फेसबुक इन्स्टाग्राम वगैरह अपनी कमाई को बढ़ाने के लिये बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य को अनदेखा कर रहे है। प्रधानाचाय अमिता दवे व चिकित्सा विभाग के डेन्टल असिस्टेन्ट हर्षराज, चतुर सिंह व मोहम्मद रिजवान ने सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम में 50 बच्चों की दंत रोग एवं 9 बच्चों की फ्लोरोसिस सम्बन्धित जांच कर परामर्श दिया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

कर्नाटक के सबसे अमीर नेता कांग्रेस के यूसुफ शरीफ और आनंदहास ग्रुप के होटलों पर IT का छापाPM Modi in Gujarat: राजकोट को दी 400 करोड़ से बने हॉस्पिटल की सौगात, बोले- 8 साल से गांधी व पटेल के सपनों का भारत बना रहापंजाब की राह राजस्थान: मंत्री-विधायक खोल रहे नौकरशाही के खिलाफ मोर्चा, आलाकमान तक शिकायतेंई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्मVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारकौन हैं IAS अधिकारी कीर्ति जल्ली, जो असम के बाढ़ प्रभावितों को बचाने के लिए खुद कीचड़ में उतरींमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफ
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.