JAISALMER NEWS- लाखों की आय के बाद भी सुविधाएं देने में ऐसी कंजूसी देखकर आप भी कहोगे...

पोकरण स्टेशन पर अव्यवस्थाओं का अम्बार

By: jitendra changani

Published: 29 Mar 2018, 11:18 AM IST

पोकरण. स्थानीय रेलवे स्टेशन पर अव्यवस्थाओं की भरमार व सुविधाओं की कमी के चलते यात्रियों को परेशानी हो रही है। हर वर्ष लाखों रुपए की आय होने के बावजूद स्थानीय रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं के विकास को लेकर रेलवे विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। पोकरण रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के लिए बैठने के लिए टिनशेड छोटा होने से दुविधा हो रही है। यहां सौन्दर्यकरण के नाम पर भी खानापूर्ति ही हो रही है। हालात यह है कि इस लाइन पर दौडऩे वाली ट्रेनों में सफर करने वाले यात्रियों को सुविधाओं की दरकार है। जबकि रेलवे विभाग की ओर से इस ओर कोई विशेष कदम नहीं उठाए जा रहे है। जिसका खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है।

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

आवारा पशुओं का डेरा
पोकरण रेलवे स्टेशन आवारा पशुओं का अड्डा बनता जा रहा है। यहां आने वाली ट्रेनों की खिड़कियों पर आवारा पशुओं का स्वच्छंद विचरण करते देखा जा सकता है। बावजूद इसके जिम्मेदारों की आंख नहीं खुल रही है। यहां का रेलवे स्टेशन अव्यवस्थाओं के चलते स्वच्छ स्टेशन, स्वच्छ रेल के सपने को धूमिल कर रहा है। शौचालय हो या प्लेटफार्म अथवा रेल के डिब्बे चारों तरफ आवारा पशुओं का जमघट लगा रहता है। ये आवारा पशु यात्रियों की खाने पीने की वस्तुओं पर मुंह मारते है तथा कई बार आपस में भिड़ जाने के दौरान अफरा तफरी की स्थिति हो जाती है। ऐसे में यात्रियों के चोटिल होने की भी आशंका बनी हुई है।

 

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

शीतल पानी की व्यवस्था नहीं
इन दिनों भीषण गर्मी का मौसम शुरू हो गया है। रेल में यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए यहां ठण्डे पानी की कोई व्यवस्था नहीं है। वर्षों पूर्व यहां स्थापित की गई प्याऊ भी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म को ऊंचा उठाते समय नीचे दब गई। अब इस प्याऊ का कोई उपयोग नहीं हो रहा है। हालांकि रेलवे विभाग की ओर से खानापूर्ति करते हुए यहां नल अवश्य लगाए गए है, लेकिन इन नलों से आ रहे गर्म पानी से हलक तर करना दूर, हाथ धोना भी मुश्किल हो जाता है। जिसके चलते यहां रेलों में यात्रा करने वाले मुसाफिरों को रेलवे स्टेशन पर बोतल बंद पानी खरीदकर पीना पड़ रहा है।

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned