JAISALMER NEWS- लाखों खर्च के बाद भी गंदगी और दुर्गन्ध का यहां साम्राज्य

गंदगी से आमजन परेशान

By: jitendra changani

Published: 03 Apr 2018, 06:17 PM IST

गंदगी से आमजन परेशान
नोख गांव में प्रतिवर्ष सफाई के नाम पर लाखों रुपए खर्च किए जा रहे है, लेकिन नतीजा कुछ भी नहीं दिख रहा। यहां के बाशिंदे गंदगी व कीचड़ से परेशान हैं। गांव में कुछ वर्ष पूर्व नाले का निर्माण करवाया गया था। इस दौरान लेवल का ध्यान नहीं रखे जाने से गंदे पानी की निकासी नहीं हो पा रही है तथा गंदा पानी नाले में ही जमा है। इसके अलावा नाले की सफाई भी नहीं की जा रही है। जिससे कई बार गंदा पानी ओवरफ्लो होकर सडक़ पर जमा हो जाता है तथा आमजन को परेशानी होती है। इसके लिए ग्रामीणों की ओर से ग्राम पंचायत व प्रशासन से मांग भी की गई थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसी प्रकार गांव के विभिन्न गली मोहल्लों में कचरा बिखरा पड़ा है। गांव में बबूल की झाडिय़ां लग गई है। जिससे मच्छरों की भरमार हो रही है।

 

 

पंचायत समिति की बैठक 5 को
जैसलमेर पंचायत समिति जैसलमेर की आम बैठक गुरुवार सुबह 11:15 बजे पंचायत समिति जैसलमेर सभा कक्ष में पंचायत समिति जैसलमेर प्रधान अमरदीन की अध्यक्षता में होगी।

 

 

Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

माध्यमिक स्तर का बालिका विद्यालय नहीं होने से परेशानी
रामदेवरा. आदर्श ग्राम रामदेवरा में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्तर का बालिका विद्यालय नहीं होने से कई छात्राओं को 8वीं के बाद शिक्षण कार्य छोडऩा पड़ रहा है। गौरतलब है कि गांव में एक बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालय है। इसमें करीब 400 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इस विद्यालय को क्रमोन्नत करने के लिए कई बार जनप्रतिनिधियों व शिक्षा विभाग के अधिकारियों से मांग की, लेकिन अभी तक कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस विद्यालय में मावा, विरमदेवरा, सूजासर, सरणायत, एकां से छात्राएं अध्ययन के लिए आती हैं, लेकिन आठवीं के बाद माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्तर का बालिका विद्यालय नहीं होने के कारण छात्राओं को विद्यालय छोडऩे के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री को एक ज्ञापन प्रेषित कर विद्यालय को क्रमोन्नत करवाने की मांग की है।

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned