scriptThe fire started by the fire after the burning of three people | JAISALMER NEWS- आग ने मचाया कोहराम, बच्ची सहित तीन जनों की झुलसने के बाद अस्पताल ने झटके हाथ... | Patrika News

JAISALMER NEWS- आग ने मचाया कोहराम, बच्ची सहित तीन जनों की झुलसने के बाद अस्पताल ने झटके हाथ...

झोंपे में आग लगने से बच्ची सहित तीन जने घायल
-गफूर भ_ा की घटना

जैसलमेर

Published: January 12, 2018 10:45:24 am

जैसलमेर. जैसलमेर की गफूर भ_ा कच्ची बस्ती में बीती देर रात एक झोंपे में आग लगने से वहां सो रही दो महिलाएं और एक बच्ची झुलस गई। तीनों घायलों को पड़ोसियों ने जवाहर चिकित्सालय पहुंचाया।घटना बुधवार रात्रि करीब 11 बजे की है। गफूर भ_ा में एक परिवार के तीन सदस्य चारपाई के पास मोमबत्ती जलाकर सो रहे थे।मोमबत्ती के गिरने से आग लग गईऔर पूरे झोंपे में धुआं फैल गया। दरवाजा बंद होने से कमरे में घुटन भी हो गई। हादसे में बालिका किरण व उसकी माता कविता तथा दादी धापू देवी बुरी तरह से झुलस गई। सभी के शरीर का ऊपरी हिस्सा झुलस गया।


Jaisalmer patrika
patrika news
Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika
पड़ोसियों ने बचाया
प्रत्यक्षदर्शियोंं के अनुसार रात को झोंपडेे के अन्दर से चिल्लाने की आवाज आने पर पड़ोसी वहां पहुंचे।चूंकि झोंपे में केवल बालिका व दो महिलाएं थीं, वे दरवाजा खोल नहीं पाई। पड़ोसियों ने तत्परता दिखाते हुए पीछे की खिडकी को तोड कर सभी को बाहर निकाला। जब तक तीनों काफी झुलस चुके थे। मौके पर फायर ब्रिगेड ने पहुंच कर आग पर काबू पाया। महिला कविता का पति कामकाज के सिलसिले में जैसलमेर से बाहर ही रह रहा है। पडोसियों ने तत्परता दिखाते हुए घायलों को जवाहर अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां से गुरुवार सवेरे उनकी गंभीर हालत देखते हुए उन्हें यहां से रैफर कर दिया।
Jaisalmer patrtika
IMAGE CREDIT: patrika
अस्पताल में बर्न यूनिट ताले में बंद
इस घटना से एक बार फिर जिला मुख्यालय स्थित जिले के एकमात्र सरकारी अस्पताल जवाहर चिकित्सालय में बर्न यूनिट के ताले में कैद होने से लोगों को आने वाली परेशानी को उजागर कर दिया। गौरतलब है कि जवाहर चिकित्सालय परिसर में वर्षों पहले करोड़ों रुपए की लागत से बर्न यूनिट निर्मित की गई थी, लेकिन, इसे अब तक शुरू नहीं किया गया है। बर्न यूनिट के संचालित नहीं होने की वजह से जिले के मरीजों को आपातकालीन परिस्थितियों में जोधपुर , बीकानेर आदि शहरों का रुख करना पड़ रहा है। जो कईबार मरीजों के जीवन के साथ खिलवाड़ साबित होता है और उनके परिवारजनों के लिए भारी आर्थिक परेशानी का सबब बन जाता है।
Jaisalmer patrika
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.