Jaisalmer- मौसम के कुंडली मारने से, फसलों के जीवन पर पड़ रहा यह दुष्प्रभाव

चना व सरसों पर तापमान की कुंडली से बुवाई प्रभावित!
- बुवाई का समय बीता, लक्ष्य की 25 फीसदी ही हो पाई बुवाई

By: jitendra changani

Published: 24 Oct 2017, 08:03 PM IST

जैसलमेर . जैसलमेर जिले की कुंडली में तापमान के स्थिर भाव में आने से रबी का जीवन खतरे में पड़ गया है। जानकारों की माने तो चना व सरसो की फसल की बुवाई का समय बीत जाने के बाद भी तापमान में गिरावट नहीं होने से इन दोनों फसलों की बुवाई प्रभावित होने की आशंका है। विशेषज्ञों के अनुसार सरसो व चना की 15 से 25 अक्टूंबर तक का समय निर्धारित है और इस समय वातावरण का तापमान 32 डिग्री से अधिक नहीं होना चाहिए, लेकिन स्थित भाव के खेल में रबी का जीवन उलझने से सरसों व चना की बुवाई प्रभावित हो रही है।
25 फीसदी हुई बुवाई
विशेषज्ञों के अनुसार सरसो व चना की बुवाई के हिसाब से वर्तमान में तापमान अधिक चलने से इस बार अब तक लक्ष्य की 25 फीसदी बुवाई ही हो पाई है। जानकारों के अनुसार सरसो की लक्ष्य के विरुद्ध 26.35 व चना की 24.24 फीसदी बुवाई ही हो पाई है। जानकारों की माने तो तापमान की अधिकता से बोई गई फसल पर भी संकट है।

यह है लक्ष्य
फसल का नाम लक्ष्य
सरसो 85,000
चना 1,65,000
गेहूं 28,000
जौ 1,500
तारामीरा 500
जीरा 35,000
ईसबगोल 30,000
अन्य 20,000
कुल 3,47,000
इतना होना चाहिए तापमान
जानकारों के अनुसार सरसों व चना की बुवाई के समय 30 से 32 डिग्री तापमान होना चाना चाहिए, लेकिन वर्तमान में तापमान 36 से 40 डिग्री चल रहा है। ऐसे तापमान में बुवाई करने पर बीच अंकुरण होने से पहले ही मरने की आशंका अधिक रहती है। जिससे तापमान को लेकर किसानों की चिंता बढ़ गई है।
अक्टूंबर में तापमान की स्थिति
तारीख तापमान
2016 2017
15 37.0 41.4
16 37.0 41.3
17 36.7 40.5
18 36.2 40.3
19 36.4 39.8
20 36.7 39.5
21 36.8 38.8
22 35.5 36.0
23 35.9 36.2

फैक्ट फाइल
- 38 लाख हेक्टयर कृषि क्षेत्र है जैसलमेर जिले में।
- 3.47 लाख हेक्टयर क्षेत्र में रबी की बुवाई का है लक्ष्य।
- 40 हजार हेक्टयर में अब तक हुई है चने की बुवाई।
- 22 हजार 400 हेक्टयर में अब तक हुई है सरसो की बुवाई।
- 1.50 लाख से अधिक परिवार जुड़े है कृषि रोजगार से।
तापमान कम नहीं होने से बढ़ी दुविधा
रबी की बुवाई का सीजन शुरू हो गया है, लेकिन तापमान कम नहीं होने से सरसो व चना की बुवाई प्रभावित हो रही है। जैसलमेर में 15 नवबम्र तक चना व सरसो की बुवाई चलती है। किसानों को तापमान कम होते ही बुवाई शुरू करनी चाहिए।
- आरएस नारवाल उपनिदेशक कृषि विस्तार केन्द्र, जैसलमेर

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned