scriptThe importance of labor explained to the volunteers | स्वयंसेवकों को समझाया श्रम का महत्व | Patrika News

स्वयंसेवकों को समझाया श्रम का महत्व

-एनएसएस शिविरों का समापन

जैसलमेर

Published: January 05, 2022 02:03:32 pm

जैसलमेर. जिले के विभिन्न विद्यालयों में चल रहे एनएसएस शिविरों का समापन मंगलवार को हुआ। यहां गांधी बाल मन्दिर उच्च माध्यमिक विद्यालय में आयोजित विशेष सामाजिक एनएसएस शिविर के समापन समारोह की शुरूआत दीप प्रज्वलन व सरस्वती वंदना के साथ की गई। प्रभारी घनश्याम छांगाणी ने प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। संस्था प्रधान कमल किशोर व्यास ने सभी विद्यार्थियों को शिविर के माध्यम से अभिव्यक्ति प्रस्तुत करने की सीख दी तथा जीवन में श्रम का महत्व समझाया। बाल विकास मण्डल के मंत्री गिरिश व्यास ने विद्यालय की सह शैक्षणिक प्रवृति के माध्यम से विद्यार्थियों के सर्वागीण विकास को समझाया। इस अवसर पर धर्मेन्द्र बोहरा व महेश वैष्णव ने भी सहयोग प्रदान किया। इसी तरह मोंटेसोरी बाल निकेतन उच्च माध्यमिक विद्यालय में एनएसएस शिविर के समापन अवसर पर गोद ली गई ढिब्बा पाड़ा बस्ती व सोनार दुर्ग में श्रमदान किया गया। व्याख्याता दुर्गाशंकर सुथार के निर्देशन में स्वयंसेवकों ने योग की विभिन्न मुद्राओं का अभ्यास किया। समापन कार्यक्रम प्रधानाचार्य सुरेश कुमार कल्ला की अध्यक्षता व मंत्री नाथूसिंह तंवर के विशिष्ट आतिथ्य में आयोजित हुआ। इसी तरह करणी बाल मंदिर उच्च माध्यमिक विद्यालय में सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर के अंतिम दिवस को स्वयं सेवकों की ओर से कच्ची बस्ती का सर्वे किया गया। विद्यालय के मंत्री बाबूदान ने शिविर में स्वयं सेवकों को शिविर की महत्ता, सहयोग, अनुशासन व संस्कारों के बारे में विस्तार से बताया। रितेश श्रीमाली ने ऑनलाइन शिक्षण व कॅरियर कॉउंसलिंग के विषय में जानकारी दी। इसी प्रकार शिविर प्रभारी स्वरूप परिहार ने शिविर में किए गए कार्यों की जानकारी दी।
रामगढ़. जिले के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सोनू में मंगलवार को सात दिवसीय एनएसएस शिविर का समापन किया गया। समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था प्रधान केसरसिंह राठौड़ ने की। उन्होंने अपने उद्बोधन में बताया कि शिविर के दौरान मिले अनुभवों को प्रतिभागियों को अपने दैनिक जीवन मे भी उतारने की बात कही। उन्होंने कहा कि शिविर के दौरान जिस प्रकार संभागियों ने विद्यालय परिसर और गांव के आसपास के क्षेत्रों की स्वच्छता में अपना योगदान दिया, उसी प्रकार उन्हें अपने मन की स्वच्छता पर भी ध्यान देना चाहिए, क्योंकि एक अच्छे मन से अच्छे व्यक्ति ओर अच्छे व्यक्ति से ही स्वस्थ और सभ्य समाज की नींव रखी जा सकती है। शिविर प्रभारी चनणाराम ने बताया कि शिविर में स्वच्छता, नशा मुक्ति, डिजिटल शिक्षा, बाल शिक्षा, सड़क सुरक्षा आदि कई अभियान सम्पन्न कराए गए। प्रतिभागियों ने सामूहिक रूप से भोजन बनाया गया । कार्यक्रम में विद्यालय के समस्त स्टाफ ने सहयोग किया। संस्था प्रधान ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।
स्वयंसेवकों को समझाया श्रम का महत्व
स्वयंसेवकों को समझाया श्रम का महत्व

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.