scriptThe time is being made for the cattle, the deer trapped in the cordon | तारबंदी मवेशी के लिए बन रही काल, तारबंदी में फंसा हरिण | Patrika News

तारबंदी मवेशी के लिए बन रही काल, तारबंदी में फंसा हरिण

- तारबंदी में फंसा हरिण, श्वानोंं ने बनाया शिकार

जैसलमेर

Published: April 20, 2022 08:17:57 pm

लाठी. पर्यावरण संरक्षण को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11 के दोनोंं तरफ वन विभाग की ओर से पौधरोपण कर की गई तारबंदी वन्यजीवों के लिए काल बन रही है। धोलिया गांव के पास एक हरिण के पीछे श्वान भाग रहे थे। इस दौरान हरिण इस तारबंदी में उलझ गया। जिस पर श्वानों ने उस पर हमला कर मौत के घाट उतार दिया। गौरतलब है कि पोकरण से जैसलमेर तक राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 11 पर सड़क के दोनों तरफ वन विभाग की ओर से पौधे लगाकर उनके संरक्षण के लिए तारबंदी की गई है। लाठी, भादरिया, खेतोलाई, धोलिया आदि हरिण बाहुल्य क्षेत्र है। यहां बड़ी संख्या में हरिण विचरण करते है तथा आए दिन श्वानों के हमले में वे काल का ग्रास हो जाते है। श्वानोंं के हमले से बचने के लिए भागते हरिण कई बार इस तारबंदी में उलझ जाते है और श्वानों का शिकार बन जाते है। मंगलवार की देर रात भी धोलिया गांव के पास कुछ श्वान एक चिंकारा हरिण का पीछा कर रहे थे। इस दौरान चिंकारा ने जब तारबंदी से छलांग लगाई तो वह उसमें उलझ गया। इस दौरान श्वान उस पर टूट पड़े और उसे अपना शिकार बना लिया। बुधवार को सुबह तारबंदी में फंसे चिंकारे को मृत देखकर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। अखिल भारतीय जीवरक्षा विश्रोई सभा के जिलाध्यक्ष राधेश्याम विश्रोई सहित वन्यजीवप्रेमी व ग्रामीण मौके पर पहुंचे और घटना को लेकर वन विभाग के अधिकारियों को सूचित कर रोष जताया। सूचना पर वन विभाग के वनपाल कानसिंह मेड़तिया, कमलेश विश्रोई व अन्य कार्मिक मौके पर पहुंचे तथा मृत हरिण को दफनाकर अंतिम संस्कार किया।
वन्यजीवों के लिए बनी परेशानी
राष्ट्रीय राजमार्गों के किनारे वन विभाग की ओर से पौधरोपण कर उनकी सुरक्षा के लिए तारबंदी की गई है, ताकि पर्यावरण संरक्षण हो सके। जबकि दूसरी तरफ यह तारबंदी वन्यजीवों के लिए परेशानी का सबब व काल का ग्रास बनती जा रही है। आए दिन हरिण, नीलगाय, खरगोश सहित अन्य वन्यजीव इस तारबंदी में फंस रहे है और काल का ग्रास हो रहे है। साथ ही श्वान भी इन तारबंदी में फंसे वन्यजीवोंं को अपना शिकार बने रहे है।
सुरक्षा के हों उपाय
क्षेत्र में आए दिन वन्यजीवों की मौत हो रही है। जबकि वन विभाग की ओर से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है, न ही गश्त बढ़ाने व सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए जा रहे है।
- राधेश्याम पेमाणी, जिलाध्यक्ष अखिल भारतीय विश्रोई सभा जैसलमेर, धोलिया।
की जा रही है जांच
धोलिया गांव के पास तारबंदी के कारण हरिण के मृत होने की सूचना मिली। जिस पर वन विभाग की टीम ने मौके पर जाकर मामले की जांच शुरू की है।
- कानसिंह मेड़तिया, वनपाल वन विभाग, लाठी।
तारबंदी मवेशी के लिए बन रही काल, तारबंदी में फंसा हरिण
तारबंदी मवेशी के लिए बन रही काल, तारबंदी में फंसा हरिण

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.