JAISALMER NEWS- राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के हजारों स्वयं सेवको ने जैसलमेर में किया द्विधारा पथ संचलन

By: jitendra changani

Updated: 15 Jan 2018, 08:04 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/7

जैसलमेर में निकाले गए विराट पथ संचलन का नजारा

जैसलमेर . घोष की उठती-गिरती स्वर लहरियों के बीच हजारों स्वयंसेवकों के लयबद्ध द्विधारा पथ संचलन को देखने के लिए रविवार को मानो सारा शहर सडक़ के दोनों ओर उमड़ पड़ा। मकर संक्रांति पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से पथ संचलन पर इतनी बड़ी तादाद में पुष्पवर्षा की गई कि, पूरा संचलन पथ पर फूलों की चादर-सी बिछ गर्ई। पूनम स्टेडियम से प्रारंभ हुआ द्विधारा संचलन इंदिरा गांधी नहर परियोजना कॉलोनी के स्कूल मैदान में पहुंचकर संपन्न हुआ। वहां संघ के प्रांत प्रचारक चंद्रशेखर ने मुख्य रूप से सामाजिक समरसता को केंद्र में रखकर उद्बोधन दिया।
पूनम स्टेडियम से हुआ आगाज
पथ संचलन के लिए स्वयंसेवकों का एकत्रीकरण पूनम स्टेडियम में रखा गया। नगर क्षेत्र के सभी आयु वर्ग के हजारों स्वयंसेवक निर्धारित वेशभूषा में यहां पहुंचे। सभी को अंतिम तौर पर मार्ग के बारे में समझाया गया। यहां से स्वयंसेवक दोपहर बाद करीब सवा बजे संचलन करते हुए रवाना हुए। आगे चलकर संचलन दो भागों में विभक्त हो गया। एक भाग हनुमान चौराहा, गांधी चौक, जिंदानी चौकी, सदर बाजार होते हुए गोपा चौक पहुंचा तो दूसरा भाग तालरिया पाड़ा, सिलावटा पाड़ा, शिव रोड से होता हुआ गोपा चौक आया, जहां दोनों हिस्सों का संगम हुआ। उससे आगे फिर से संचलन दो भागों में बंट गया और गड़ीसर चौराहा पर संगम करवाया गया। जहां से एक भाग जोधपुर और दूसरा बाड़मेर मार्गसे होते हुए निर्धारित समापन स्थल पर पहुंचा।
गोपा चौक में उमड़ा जन समुदाय
पथ संचलन का स्वागत करने के लिए वैसे तो पूरे मार्ग भर में लोगों ने उत्साह का प्रदर्शन किया, लेकिन शहर के हृदय स्थल कहलाने वाले गोपा चौक में लोग उमड़ पड़े। इनमें महिलाएं व बालिकाएं भी भारी तादाद में शामिल थीं। गोपा चौक में संगम स्थल पर विशाल रंगोली सजाई गई। सडक़ के दोनों ओर दर्जनों लोगों ने हाथों में पुष्पों से भरी थालियां थाम रखी थी। जैसे ही संचलन वहां पहुंचा, पूरा गोपा चौक ‘जय श्रीराम’, ‘वंदेमातरम्’ और ‘भारतमाता की जय’ के जयकारों से गूंज उठा। यहां संचलन का स्वागत करने के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष जुगलकिशोर व्यास, पूर्व विधायक सांगसिंह भाटी भी मौजूद थे। जबकि जैसलमेर विधायक छोटूसिंह भाटी ने पथ संचलन में भाग लिया।

जैसलमेर में हिंदुत्व की संक्रांति
संचलन में शामिल स्वयंसेवकों को समापन स्थल पर सम्बोधित करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत प्रचारक चन्द्रशेखर ने कहा कि आज का पथ संचलन जैसलमेर में हिंदुत्व की संक्रांति का परिचायक है। संक्रांति मुख्य रूप से सूर्योपासना का पर्व है। इस संचलन से हिंदुत्व को इस सीमावर्ती क्षेत्र में बल मिलेगा और जिस प्रकार खंड-खंड में बिखरा तिल गुड़ से एकजुट होकर मिठाई का रूप ले लेता है, वैसे ही जातियों में विभक्त हिंदू समाज को यह संचलन एक माला में पिरोकर एकजुट बनाता है। चंद्रशेखर ने कहा कि दुनिया में एकमात्रहिंदू धर्म ही है, शेष सभी एक-एक व्यक्ति द्वारा चलाए गए मत और पंथ हैं। उन्होंने कहा कि डॉ. बीआर अम्बेडकर के नाम पर लोगों को कुछ लोग भडक़ाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन डॉ. अम्बेडकर किसी भी तरह के प्रलोभन में नहीं आए और मुस्लिम व ईसाई धर्म नहीं अपनाकर स्वदेशी बौद्ध धर्म से जुड़े।
इस अवसर पर जागृत हिंदू महासंगम कार्यक्रम की पृष्ठभूमि रखते हुए जिला प्रचारक इंद्र सिंह ने बताया कि परमाणु नगरी पोकरण की धरती पर होने वाले जागृत हिंदू महासंगम की पूर्व तैयारी के लिए जैसलमेर में जिस प्रकार से हिंदुत्व निष्ठ स्वाभिमानी हिंदू खड़े हो गए, यह शुभ संकेत है। मंच पर संत निर्मलपुरी महाराज, विभाग संघचालक डॉ. दाऊलाल शर्मा, जिला संघचालक त्रिलोकचंद खत्री, नगर संचालक पूराराम उपस्थित थे।नगर कार्यवाह मुकेश जोशी ने अतिथियों का परिचय करवाया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned