JAISALME R NEWS: जैसलमेर के हनुमान चौराहा पर जुटे हजारों लोग,प्रदेश सरकार पर लगाया यह गंभीर आरोप

JAISALME R NEWS: जैसलमेर के हनुमान चौराहा पर जुटे हजारों लोग,प्रदेश सरकार पर लगाया यह गंभीर आरोप

Deepak Vyas | Updated: 25 Jun 2018, 08:39:04 PM (IST) Jaisalmer, Rajasthan, India

-सभा में चतुरसिंह की मौत की सीबीआई जांच की पुरजोर मांग
-पुलिस के व्यापक बंदोबस्त के बीच सभा शांतिपूर्वक संपन्न

जैसलमेर. जैसलमेर के हनुमान चौराहा पर सोमवार को चतुरसिंह की मौत की सीबीआई से जांच की मांग को लेकर आयोजित सभा में वक्ताओं ने विरोध के स्वर मुखर किए। प्रदेश की सत्तासीन सरकार पर दमनकारी नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में हिसाब चुकता किया जाएगा। उन्होंने साफ किया कि चतुरसिंह व आनंदपाल प्रकरणों की सीबीआई जांच करवाने के लिए उसके पास कम ही समय बचा है। हालांकि कार्यक्रम से भाजपा के निर्वाचित जनप्रतिनिधि और पदाधिकारियों ने दूरी बनाए रखी। इस मौके पर सभा के मंच पर उपखंड अधिकारी को बुलाकर उन्हें प्रधानमंत्री के नाम का ज्ञापन सौंपा गया। श्रद्धांजलि सभा में मठ ख्याला के गोरखनाथ महाराज, गैंगस्टर आनंदपालसिंह की माता व पुत्री योगिता भी शामिल हुई। राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेवसिंह गोगामेड़ी ने आरोप लगाया कि राजनेताओं के इशारे पर चतुरसिंह की पुलिस ने सुनियोजित ढंग से हत्या की और उसे एनकाउंटर का रंग देने का प्रयास किया।

इन्होंने भी रखे विचार
करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सूरजपालसिंह अमू ने कहा कि मांगों पर कार्रवाई नहीं की तो सत्तासीन पार्टी को वोट मांगने लायक नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश कांग्रेस महासचिव सुनीता भाटी ने कहा कि राजपूत समाज ने हमेशा भाजपा का समर्थन किया, लेकिन भाजपा सरकार ने इस समाज का उत्पीडऩ ही किया है। करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपालसिंह मकराना ने कहा कि ‘कमल का फूल हमारी भूल’को हमने उपचुनाव में साकार कर दिखाया। योगिता चौहान ने कहा कि सीबीआई जांच की मांग को लेकर हमारा संघर्ष जारी रहेगा। उम्मेदसिंह करेरी ने नेताओं की चरण वंदना करना बंद करने की बात कही। राजपालसिंह शेखावत, हनुमानसिंह खांगटा आदि ने भी विचार व्यक्त किए। चतुरसिंह संघर्ष समिति के अध्यक्ष सवाईसिंह देवड़ा ने कार्यक्रम की भूमिका पेश की।

ज्ञापन लेने मंच पर पहुंचा प्रशासन
श्रद्धांजलि सभा के दौरान प्रधानमंत्री को सौंपे जाने वाला ज्ञापन लेने उपखंड अधिकारी हंसमुख कुमार मंच पर पहुंचे। ज्ञापन में चतुरसिंह की मौत की सीबीआई से जांच करवाने, इस मामले में गणपतसिंह व वेणसिंह के खिलाफ दर्ज किया गया मुकदमा वापस लेने, पीडि़त परिवार को आर्थिक मुआवजा व सरकारी नौकरी देने तथा आनंदपाल एनकाउंटर की निष्पक्ष जांच की मांग की गई। कार्यक्रम से सत्ताधारी भाजपा के नेताओं ने किनारा किया। कांग्रेस से सुनीता भाटी के अलावा जनकसिंह भाटी, दिनेशपालसिंह भाटी, राधेश्याम कल्ला मंच पर मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned