पोकरण में तीन दिवसीय प्रशिक्षण हुआ संपन्न

पोकरण. कस्बे के एक निजी होटल के सभागार में उरमूल सेतु संस्थान, प्लान इंडिया व ओएनजीसी के सहयोग से आयोजित तीन दिवसीय द्वितीय चरण का प्रशिक्षण शिविर बुधवार को संपन्न हुआ, जिसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा सहयोगिनी व महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने भाग लिया।

By: Deepak Vyas

Published: 22 Oct 2020, 09:18 AM IST

पोकरण. कस्बे के एक निजी होटल के सभागार में उरमूल सेतु संस्थान, प्लान इंडिया व ओएनजीसी के सहयोग से आयोजित तीन दिवसीय द्वितीय चरण का प्रशिक्षण शिविर बुधवार को संपन्न हुआ, जिसमें आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, आशा सहयोगिनी व महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के समन्वयक डॉ.भीखाराम पंवार ने बताया कि उनकी टीम आंगनबाड़ी केन्द्रों व विद्यालयों में जाकर बच्चों के स्वास्थ्य का परीक्षण करती है। बच्चों को जन्मजात किसी भी तरह की बीमारी होने पर उनका नि:शुल्क उपचार करवाया जाता है। उन्होंने बताया कि यदि बच्चों में कोई विशेष प्रकार की बीमारी या विकृति होती है, तो उन्हें रैफर भी किया जाता है। डॉ.चंद्रप्रकाश ने राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम की गतिविधियों पर प्रकाश डाला। स्वास्थ्य कार्यक्रम समन्वयक मुखराम सारण ने आईवीसीएफ, गर्भवती महिलाओं, धात्री महिलाओं, छह माह से अधिक उम्र के बच्चों की देखभाल, स्तनपान के साथ छोटे बच्चों के पूरक आहार की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने गृह भ्रमण के दौरान जच्चा बच्चा कार्ड में उम्र के साथ टीकाकरण, स्तनपान में होने वाली भ्रांतियों को दूर करने पर चर्चा की और पोषण आहार के बारे में बताया। न्यूट्रेशन फॉर लाइफ के कार्यक्रम समन्वयक जबराराम ने स्तन से लगाने के सही तरीके, कम वजन वाले नवजात को स्तनपान करवाए जाने की सही विधि, कंगारू मदर केयर से नवजात को संरक्षण देने आदि के बारे में जानकारी दी। संस्थान के गेरसाव प्रमिला ने दक्ष प्रशिक्षक के रूप में विभिन्न विषयों व परियोजना की आगामी गतिविधियों पर प्रशिक्षण दिया।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned