Video: आग लगने से तीन किलोमीटर तक जली घास, हादसा टला

लाठी. लाठी क्षेत्र के भादरिया गांव के पास उत्तर दिशा में मंगलवार शाम अज्ञात कारणों से लगी आग में लगभग तीन किलोमीटर के दायरे में उगी घास जलकर राख हो गई।

By: Deepak Vyas

Updated: 14 Jan 2021, 01:30 PM IST

लाठी. लाठी क्षेत्र के भादरिया गांव के पास उत्तर दिशा में मंगलवार शाम अज्ञात कारणों से लगी आग में लगभग तीन किलोमीटर के दायरे में उगी घास जलकर राख हो गई। गनीमत रही कि आग लगने के दौरान किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के भादरिया गांव के पास उत्तर दिशा में स्थित जंगल में मंगलवार शाम अचानक आग लग गई। जंगल में सूखी हुई घास होने के कारण थोड़ी ही देर में आग ने विकराल रूप धारण करते हुए लगभग 3 किलोमीटर के दायरे में उगी हुई घास को चपेट में ले लिया।आग की लपटों को देखकर यहां पर गायों को चरा रहे चरवाहे ने इस घटना की सूचना जगदंबा सेवा समिति के सचिव जुगल किशोर आसेरा को दी। सूचना मिलने पर जुगल किशोर असेरा के नेतृत्व में जगदंबा सेवा समिति के व्यवस्थापक पप्पूसिंह भाटी, कंवरसिंह भाटी, तनेरावसिंह, गंगासिंह, चंदनसिंह, डूंगरसिंह, विनोदाराम सहित आसपास के ग्रामीण ट्रैक्टर, पानी की टंकियां तथा टैंकर लेकर घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने आग पर पानी व रेत डालकर 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया।
....तो हो सकता था बड़ा हादसा
गौरतलब है कि भादरिया गांव के पास ओरण का बहुत बड़ा आरक्षित क्षेत्र है। यहां पर विभिन्न प्रकार के पेड़ पौधे वनस्पतियां एवं घास उगी हुई है।ऐसे में यहां पर विभिन्न प्रकार कि प्रजाति के पशु-पक्षी चिंकारा हरिण, लोमड़ी, नील गाय, खरगोश जैसे जंगली जानवर तथा गोडावण, बाज, गिद्ध जैसे विभिन्न प्रजातियों के पशु-पक्षी पाए जाते है।ऐसे में आग फैल जाती तो काफी हद तक नुकसान हो जाता। समय रहते जगदंबा सेवा समिति के कार्मिकों एवं ग्रामीणों की सूझबूझ से आग पर काबू पा लिया। ऐसे में जंगल में उगी हुई लाखों बीघा में घास वनस्पति पेड़ पौधे एवं जीव जंतु आग की चपेट में आने से बच गए।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned