Jaislamer- में इस खास योग से बना कहीं उल्लास तो कहीं आक्रौश का माहौल

By: jitendra changani

Published: 29 Oct 2017, 09:09 PM IST

Jaisalmer, Rajasthan, India

Rajasthan patrika

1/5

कथा के पांचवे दिन किया प्रवचन पोकरण. कस्बे के माहेश्वरी भवन में चल रहे श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ के पांचवे दिन श्रद्धालु श्रोताओं की खासी भीड़ उमड़ी। भागवत कथा के पांचवे दिन रविवार को नंदोत्सव, श्रीकृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन, गोवद्र्धन पूजा जैसे ज्ञानवद्र्धक प्रसंगों पर व्यासपीठाधीश्वर रामस्नेही संत रामस्वरूप महाराज ने प्रवचन किए। उन्होंने कहा कि जब जब भी धरती पर पाप की वृद्धि हुई है तथा धर्म की हानि हुई है। उस वक्त भगवान ने दुष्टों का नाश करने के लिए अवतार लिया है। उन्होंने कहा कि मथुरा के राजा कंस के बढ़ते अत्याचारों से मुक्ति दिलाने के लिए भगवान श्रीकृष्ण का अवतार हुआ। उन्होंने पूतना, सक्तासुर जैसे राक्षसों सहित अन्य राक्षसों व दुष्टजनों का अंत कर धरती को पापरहित किया व धर्म की स्थापना की।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned