पोकरण, भणियाणा व नाचना में किया गया टीकाकरण

पोकरण. देशभर में गत एक वर्ष से चल रही कोरोना संक्रमण की महामारी के बाद अब चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण की शुरुआत करते हुए अस्पतालों में शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।

By: Deepak Vyas

Published: 24 Jan 2021, 08:27 PM IST

पोकरण. देशभर में गत एक वर्ष से चल रही कोरोना संक्रमण की महामारी के बाद अब चिकित्सा विभाग की ओर से टीकाकरण की शुरुआत करते हुए अस्पतालों में शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। प्रथम चरण में चिकित्साधिकारियों व कार्मिकों के टीके लगाए जा रहे है। पोकरण के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में शनिवार को भी टीकाकरण का कार्य किया गया। अस्पताल के प्रभारी डॉ.प्रकाश चौधरी ने बताया कि चिकित्साकर्मी ऊषारानी राठौड़, दिनेशकुमार छीपा की ओर से शनिवार को दिनभर में 70 चिकित्साकर्मियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा सहयोगिनियों व स्वास्थ्य मित्रोंं के टीके लगाए गए। प्रभारी चौधरी ने बताया कि टीकाकरण का कार्य रविवार को जाएगा।
भणियाणा में 53 जनों के लगाए टीके
क्षेत्र के भणियाणा गांव में स्थित राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में शनिवार को कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। खंड मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ.लोंग मोहम्मद राजड़ की देखरेख में अस्पताल के प्रभारी डॉ.अजयपालसिंह भाटी व डॉ.महेन्द्र चारण के वैक्सीन लगाकर कार्यक्रम का आगाज किया गया। इस मौके पर डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि डॉ.कीर्ति पटेल, पिरामल स्वास्थ्य के अशोक पालीवाल उपस्थित रहे। अतिरिक्त जिला मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ.अर्चना व्यास व तहसीलदार चंदन पंवार ने वैक्सीनेशन कार्य का निरीक्षण किया।
नाचना में 40 जनों के किया टीकाकरण
नाचना. कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम के तहत शनिवार को गांव के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में वैक्सीनेशन का शुभारंभ किया गया। अस्पताल के प्रभारी डॉ.वीरेन्द्रकुमार सक्सेना के निर्देशन में प्रयोगशाला सहायक स्वरूपसिंह लोहारकी के पहला टीका लगाया गया। इसके बाद अस्पताल प्रभारी डॉ.सक्सेना, डॉ.अशोककुमार, डॉ.शाहरुखखां व अन्य चिकित्साकर्मियों तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के टीकाकरण किया गया। इससे पूर्व वैक्सीन केरियर के कुमकुम लगाकर पूजा-अर्चना की गई। अस्पताल प्रभारी ने बताया कि शनिवार को 100 जनों का पंजीयन किया गया था, जिसमें से 40 जनों के वैक्सीन के टीके लगाए गए। टीकाकरण के बाद उस व्यक्ति को आधा घंटे तक अस्पताल में ही रखा गया। इसके बाद उन्हें छुट्टी दी गई।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned