Video: बोलेरो कैम्पर पलटने से 14 जने हुए घायल

- तीन जनों को किया रैफर, दो दर्जन से अधिक यात्री थे सवार
- अस्पताल में मची चीख पुकार, उमड़ी भीड़

By: Deepak Vyas

Published: 05 Apr 2021, 09:09 PM IST

नाचना (पोकरण). सीमावर्ती नहरी क्षेत्र के नाचना गांव से करीब चार किमी दूर पांचे का तला तिराहे पर रविवार को दोपहर करीब एक बजे 25-30 सवारियों से भरी एक बोलेरो कैम्पर अचानक असंतुलित होकर पलट गई। जिससे उसमें सवार 14 जने घायल हो गए, जिनमें से तीन गंभीर घायलों को जोधपुर रैफर किया गया। पांचे का तला निवासी 25-30 लोग एक बोलेरो कैम्पर से क्षेत्र के घंटियाली गांव में एक शादी समारोह में शिरकत करने गए थे। समारोह में शिरकत करने के बाद पुन: आते समय पांच का तला तिराहे पर अचानक संतुलन बिगड़ जाने से गाड़ी पलट गई। जिससे एकबारगी मौके पर अफरा तफरी व चीख पुकार मच गई। हादसे में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। जिन्हें 108 एम्बुलेंस से नाचना अस्पताल पहुंचाया गया।
ये हुए घायल
हादसे के बाद मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई तथा गाड़ी में फंसे लोगों को बाहर निकालने की मशक्कत शुरू की गई। इस दौरान लोगों ने 108 एम्बुलेंस को भी सूचना दी। जिस पर ईएमटी रामप्रसाद व पायलट सूबसिंह तत्काल मौके पर पहुंचे तथा घायलों को अस्पताल पहुंचाना शुरू किया। इस हादसे में कुल 14 जने घायल हो गए, जिनमें 17 वर्ष से कम सात बच्चे शामिल है। घायलों में पांचे का तला निवासी अखे मोहम्मद (35) पुत्र सायबदीन, अजीज (58) पुत्र लधेखां, युसुब (24) पुत्र मोहम्मदखां, वली मोहम्मद (45) पुत्र खेतेखां, मेवेखां (29) पुत्र इब्राहिमखां, जमालखां (45) पुत्र मंधूखां, इनायतखां (60) पुत्र चंदनखां, सद्दाम (12) पुत्र अजीजखां, अमान अली (17) पुत्र उस्मानखां, सत्तार (7) पुत्र फेज मोहम्मद, मुस्ताक (8) पुत्र नबीबख्श, मुस्ताक (8) पुत्र फेज मोहम्मद, युनूस (11) पुत्र अल्लाबक्श, पीरानेखां (10) पुत्र मोहम्मदखां शामिल है। जिन्हें नाचना के राजकीय अस्पताल पहुंचाया गया। चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद मुस्ताक, युनूस व पीरानेखां को गंभीर हालत के कारण जोधपुर रैफर कर दिया। जबकि शेष घायलों को उपचार के बाद छुट्टी दी गई।
उमड़ी भीड़, मची अफरा तफरी
हादसे के बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाया। इस दौरान अस्पताल में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। भीड़ के कारण अस्पताल में अफरा तफरी की स्थिति हो गई। उपस्थित ग्रामीणों ने उपचार में सहयोग भी दिया तथा बाहर से दवाइयां भी लाकर पहुंचाई। आपातकालीन कक्ष में भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस को भी मशक्कत करनी पड़ी। देर शाम तक भी अस्पताल में चहल पहल रही।

Deepak Vyas Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned