Video Jaislamer- पत्रिका अभियान : पंख लगे तो मिले परवाज पोरबंदर और पुदुच्चेरी जुड़े, हमें हवाई सौगात कब?


-जैसलमेर से नियमित हवाईसेवा की डेडलाइन को लेकर अब भी संशय कायम
-एक अक्टूबर बताई जा रही सेवा शुरू होने की तिथि

By: jitendra changani

Published: 26 Aug 2017, 06:21 PM IST

जैसलमेर . पर्यटन और सुरक्षा के लिहाज से देश के महत्वपूर्ण स्थानों में शुमार होने के बावजूद जैसलमेर को नियमित हवाई सेवा की सौगात मिलने में हो रही देरी नाउम्मीदी का वातावरण रच रही है। छोटे शहरों को हवाई सेवा से जोडऩे की केन्द्र सरकार की अहम योजना ‘उड़े देश का आम आदमी’(उड़ान) के तहत गुजरात का पोरबंदर और केंद्रशासित क्षेत्र पुदुच्चेरी तो हवाई सेवा से जुड़ गया लेकिन, जैसलमेर का इंतजार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। इधर, एयरलाइंस कम्पनी और जैसलमेर सिविल एयरपोर्ट प्रशासन अपनी तरफ से पूरी और दूसरे पक्ष पर दारोमदार होने की बात कह रहे हैं। जैसलमेर जिला प्रषासन भी विमान सेवा का आगाज आगामी एक अक्टूबर से होने की बात कह रहा है।
एयरपोर्ट पर जारी है कार्य
जानकारी के अनुसार जैसलमेर-दिल्ली वाया जयपुर नियमित उड़ान स्पाइस जेट कम्पनी की तरफ से चलाने का निर्णय हो चुका है।कम्पनी के प्रतिनिधियों ने इस संबंध में जैसलमेर के पर्यटन बाजार को भी टटोल लिया है। दूसरी ओर जैसलमेर के सिविल एयरपोर्ट पर फ्लाइट के उतरने और उड़ान भरने के संबंध में जरूरी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।बताया जाता है कि इस संबंध में लाइटिंग और अन्य तकनीकी कमियों को दुरूस्त किया जाना है। एयरलाइनर कम्पनी अपनी तरफसे विमानों की उपलब्धता सहित अन्य सभी तैयारियों के पूरे होने की बात कह चुकी है तो एयरपोर्ट अथॉरिटी के अनुसार उनकी तरफसे 95 प्रतिषत तक काम कर लिया गया है। शेष कार्य आगामी एक पखवाड़ा में पूरा हो जाएगा।
सीमा क्षेत्र होने की उलझनें
जैसलमेर से नियमित हवाई सेवा की शुरूआत करने को लेकर संबंधित पक्षों की तरफ से कवायद गत डेढ़ वर्ष से अधिक समय से की जा रही है, लेकिन सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण यहां सुरक्षा बड़ा मसला है। यही कारण है कि, 9 सीटर छोटे विमानों का संचालन करने वाली सुप्रीम एयरलाइंस सब कुछ तय होने के बावजूद यहां से हवाई सेवा शुरू नहीं कर पाई। आखिरकार‘उड़ान’ योजना में जैसलमेर का चयन होने के बाद राज्य सरकार ने सुरक्षा का जिम्मा संभालने का निर्णय कर विमान सेवा का आकाश साफ किया। अब यह निर्णय हो चुका है कि, एयरपोर्ट में विमानों की आवाजाही के दौरान सुरक्षा व्यवस्था सरकार करेगी और वही इसका खर्च भी वहन करेगी।
पर्यटन क्षेत्र कर रहा पुकार
इधर, आगामी माह से जैसलमेर पर्यटन का चरम काल प्रारंभ होने वाला है। इसके चलते यहां के पर्यटन व्यवसायी जिनमें होटल वालों से लेकर सभी लोग शामिल हैं, बेसब्री से नियमित उड़ान की सुविधा मिलने की बाट जोह रहे हैं। उन्हें अपने ग्राहकों को समय रहते विमान सेवा के बारे में अवगत भी करवाना है, क्योंकि सीजन में जो पर्यटक जैसलमेर आते हैं, वे कम से कम दो-चार माह पहले बुकिंग करवा लेते हैं।

फैक्ट फाइल -
-2012 से बनकर तैयार है जैसलमेर में सिविल एयरपोर्ट
-05 लाख से ज्यादा सैलानी प्रतिवर्ष आते हैं जैसलमेर
-100 करोड़ रुपए की लागत से बनाया गया एयरपोर्ट
-10 किलोमीटर दूर है जैसलमेर से एयरपोर्ट

तैयारियां अंतिम दौर में
जैसलमेर के सिविल एयरपोर्टपर नियमित हवाई सेवा के लिए तैयारियां अब लगभग पूर्ण हो चुकी हैं। हम आगामी 15 दिनों में इसे निपटा लेंगे। एयरलाइनर कम्पनी को ही इसके बाद व्यवस्थाएं करनी हैं।
-राजीव पुनेता, प्रभारी, जैसलमेर सिविल एयरपोर्ट, जैसलमेर

Show More
jitendra changani Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned